PM मोदी के संसदीय क्षेत्र पहुंचे उनके ही मंत्री ने विकास कार्यों और स्वच्छता पर उठाए सवाल, बोले- ‘वाराणसी बहुत गंदा है, यहां सफ़ाई की ज़रूरत है’

PM मोदी के संसदीय क्षेत्र पहुंचे उनके ही मंत्री ने विकास कार्यों और स्वच्छता पर उठाए सवाल, बोले- ‘वाराणसी बहुत गंदा है, यहां सफ़ाई की ज़रूरत है’

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस पहुंचे उनके ही एक एक मंत्री ने विकास कार्यों और स्वच्छता पर उठाए सवाल है। इतना ही नहीं, केंद्रीय मंत्री ने पीएम मोदी के संसदिय क्षेत्र बनारस को गंदा शहर तक करार दे दिया। उन्होंने यह भी कहा कि, वाराणसी बहुत गंदा है और यहां पर सफ़ाई की ज़रूरत है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री केजे अल्फोंस अपने दो दिवसीय दौरे पर पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी आए हुए थे। उन्होंने पीएम मोदी के 4 साल के कार्यकाल में वाराणसी में हुए विकास कार्यों और स्वच्छता पर ही प्रश्नचिन्ह लगा दिया। अल्फोंस ने कहा कि वाराणसी में हालत बेहद खराब है और ट्रैफिक व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त है और स्वच्छता की स्थिति भी अच्छी नहीं है। गंदगी चारों और फैली है जिसकी वजह से सैलानी कम हो रहे हैं।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, एक सवाल के जवाब में अल्फ़ोंस ने कहा कि वाराणसी में ट्रैफ़िक की समस्या है आवाजाही में दिक्कत होती है जाम लग जाता है। उन्होंने ये भी कहा कि वाराणसी बहुत गंदा है और यहां सफ़ाई करने की ज़रूरत है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री केजे अल्फोंस सोमवार को वाराणसी अपने दो दिवसीय दौरे पर आए थे। यहां आने के बाद उन्होंने बनारस में पर्यटन की दृष्टि से चल रहे तमाम विकास कार्यों का जायजा लिया रामनगर सारनाथ समेत गंगा घाटों व अन्य जगहों पर जाकर उन्होंने स्थलीय निरीक्षण भी किया और आज अधिकारियों वह टूरिस्ट गाइड व ट्रैवलर्स के साथ मीटिंग के बाद उन्होंने कहा कि अभी वाराणसी के सारनाथ में 5,00,000 टूरिस्ट आ रहे हैं जो बहुत कम है, इसको हमें 2 सालों में बढ़ाकर 10,00,000 करना है।

साथ ही उन्होंने कहा, यह हमारा सबसे बड़ा उद्देश्य है मैंने सारनाथ और वाराणसी का 2 दिनों तक निरीक्षण किया है और सारनाथ के विकास में पूरा योगदान केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय देगा। उन्होंने कहा कि मैंने 2 दिन तक वाराणसी का भ्रमण किया और पाया कि यहां पर दिक्कतें बहुत सी हैं। सड़कों पर जाम की स्थिति सबसे बड़ा मुद्दा है स्वच्छता की दिक्कत यहां पर बहुत ज्यादा है गंदा बहुत हैं यहां पर इसको साफ करना है।

 

Courtesy: jantakareporter

Categories: Politics

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*