भारत की जीत के हीरो सुनील छेत्री ने दिग्गज फुटबॉलर लियोनेल मेसी की बराबरी की

भारत की जीत के हीरो सुनील छेत्री ने दिग्गज फुटबॉलर लियोनेल मेसी की बराबरी की

भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री के दो गोल की बदौलत भारत ने रविवार को मुंबई फुटबॉल एरेना में फाइनल में केन्या को 2-0 से हराकर इंटरकांटिनेंटल कप फुटबॉल टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया। छेत्री इसके साथ ही सर्वाधिक गोल करने वाले सक्रिय फुटबॉल खिलाड़ियों की सूची में अर्जेन्टीना के दिग्गज खिलाड़ी लियोनल मेस्सी के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर पहुंच गए। इन दोनों खिलाड़ियों के नाम पर अब 64 अंतरराष्ट्रीय गोल दर्ज हैं। छेत्री ने आठवें मिनट में भारत को बढ़त दिलाई और फिर 29वें मिनट में एक और गोल दागकर मेस्सी की बराबरी कर ली।

अपने 102वें अंतरराष्ट्रीय मैच खेल रहे 33 साल के छेत्री से अधिक गोल सक्रिय खिलाड़ियों में सिर्फ पुर्तगाल के सुपरस्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने किए हैं। उनके नाम पर 150 मैचों में 81 गोल दर्ज हैं।

भारत ने यूएई में 2019 में होने वाले एशियाई कप की तैयारी के मकसद से इस टूर्नामेंट का आयोजन किया था और इस प्रतियोगिता में उसकी खिताब जीत दर्शाती है कि छेत्री और उनकी टीम की तैयारी सही राह पर हैं। न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले मैच में 1-2 की शिकस्त के बाद भारतीय टीम आज बेहतर लय में दिखी।

भारत को आठवें मिनट में मिली 1-0 से लीड

भारत को पहला बड़ा मौका सातवें मिनट में मिला जब केन्या के बर्नार्ड ओगिंगा के फाउल के कारण मेजबान टीम को फ्री किक मिली। अनिरुद्ध थापा की फ्री किक सीधे कप्तान सुनील छेत्री के पास पहुंची जिन्होंने इसे गोल में पहुंचाकर भारत को आठवें मिनट में 1-0 से आगे कर दिया। भारत ने दो मिनट बाद एक और अच्छा मूव बनाया लेकिन इस बार छेत्री को अन्य खिलाड़ियों से सहयोग नहीं मिला। ओगिंगा और ओवेला ओचींग ने केन्या के लिए अच्छा मौका बनाया लेकिन भारतीय डिफेंडरों ने उनके हमले को नाकाम कर दिया।

छेत्री ने 29वें मिनट में दागा एक और गोल

छेत्री ने 29वें मिनट में एक और गोल दागकर भारत को 2-0 की बढ़त दिलाई। भारतीय कप्तान ने अनस एडाथोडिका के लंबे पास को अपने कब्जे में लिया और फिर केन्या के अतुडो और किबवागे को पछाड़ते हुए आगे बढ़े। छेत्री ने इसके बाद अपने दमदार शाट से गोलकीपर पैट्रिक मतासी को छकाते हुए गोल दागा। छेत्री का मौजूद टूर्नामेंट के चार मैचों में यह आठवां गोल था। ओगिंगा को फाउल करने पर 35वें जबकि कप्तान मुसा मोहम्मद को 43वें मिनट में पीला कार्ड दिखाया गया। भारतीय टीम मध्यांतर तक 2-0 से आगे थी। दूसरे हाफ में दोनों टीमों ने कई अच्छे मूव बनाए लेकिन किसी भी टीम को गोल करने में सफलता नहीं मिली।

courtesy: outlook

Categories: Sports

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*