हापुड़: गौकशी के शक में मारे गए कासिम के शव को घसीटते हुए तस्वीर वायरल होने के बाद यूपी पुलिस ने मांगी माफी

हापुड़: गौकशी के शक में मारे गए कासिम के शव को घसीटते हुए तस्वीर वायरल होने के बाद यूपी पुलिस ने मांगी माफी

उत्तर प्रदेश के हापुड़ के सोमवार (18 जून) को गोकशी का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने कासिम नाम के एक मुस्लिम शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। वहीं, पुलिस ने इस मामले में करीब 25 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इस मामले में पुलिस दो लोगों को गिरफ्तार भी किया है। वहीं, उधर घटना में जब लोगों ने पीड़ित को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया था, उसी समय की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई जिसमें तीन पुलिसवालों के सामने ही कुछ लोग घायल को घसीटते हुए नज़र आ रहे थे।

इस तस्वीर के चलते यूपी पुलिस को सोशल मीडिया पर जमकर खरी खोटी सुनाया जा रहा था और उनके रवैये पर सवाल उठा रहें थे। हालांकि, अब यूपी पुलिस ने लाश को घसीटते हुए तस्वीर के वायरल होने के बाद ट्वीट कर माफी मांगी। साथ ही तस्वीर में दिख रहें पुलिसवालों को पुलिस लाइन ट्रांसफर करके उनके खिलाफ जांच बिठा दी गई है।
ट्विटर के जरिए मांगी गई माफ़ी में यूपी पुलिस ने लिखा, ‘वी आर सॉरी, क़ानून व्यवस्था के मामले कई बार ऐसे होते हैं कि अनजाने अनचाहे कुछ बातें हो जाती हैं।’ पुलिस का दावा है कि जो तस्वीर सामने आई है वो पुलिस के तुरंत पहुंचने के बाद की है। एंबुलेंस नहीं होने की वजह से उसे तुरंत अस्पताल ले जाने की कोशिश की गई। हालांकि, पुलिस को मानवीय तरीके से काम करना चाहिए था।

यूपी पुलिस के डीजीपी मुख्यालय की ओर से लिखा गया, ‘हम इस घटना के लिए माफी मांगते हैं। तस्वीर में दिखाई दे रहे तीनों पुलिसवालों को पुलिस लाइन ट्रांसफर कर दिया गया है और जांच की जा रही है। ऐसा लगता है कि तस्वीर तब ली गई जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और घायल को गाड़ी तक ले जाने के ऐंबुलेंस ना होने के चलते इस तरह से ले जाया गया। हम स्वीकार करते हैं कि इन पुलिसकर्मियों को संवेदनशीलता दिखानी चाहिए थी। जान बचाने और कानून व्यवस्था बनाने की जल्दबाजी में मानवीय चिंताओं को नजरअंदाज किया गया। दूसरी तस्वीर से यह स्पष्ट है कि पीड़ित को यूपी-100 की गाड़ी से अस्पताल ले जाया गया।’

ABP न्यूज के मुताबिक यह पूरा मामला पिलखुआ के बछेड़ा खुर्द गांव का है। रिपोर्ट के मुताबिक, कासिम के खेत में एक गाय और उसका बछड़ा घुस गया था। जिसे कासिम भगा रहा था, लेकिन इसी दौरान गांव में कुछ लोगों ने गो हत्या की अफवाह फैला दी और मौके पर पहुंचे दबंगों ने कासिम और उसके साथी को पीट-पीट कर बुरी तरह घायल कर दिया। जिसके बाद इलाज के दौरान कासिम की मौत हो गई।

रिपोर्ट के मुताबिक बताया जा रहा है कि पुलिस ने ही दोनों घायलों को गंभीर हालत में नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया था, लेकिन कासिम नाम के एक युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं, समयदीन नाम के युवका का इलाज चल रहा है। घटना की सूचना मिलते ही आनन फानन में पुलिस के आलाधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गए। एबीपी न्यूज के मुताबिक पुलिस ने पीड़ित के भाई की तहरीर पर 25 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच में जुट गई है।

ग्रामीणों के मुताबिक, समयदीन किसान है और वह अपने खेत से पशुओं का चारा लेने गया था। समयदीन के खेत में एक गाय और बछड़ा घुस गया था, समयदीन उनको अपने खेत से बाहर निकाल रहा था, जिसके बाद किसी ने गांव में गो हत्या की अफवाह फैला दी। गांव से लोग मौके पर पहुंच गए और दोनों की जमकर पिटाई कर दी। उस वक्त कासिम भी वहीं मौजूद था। बाद में दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया जिसमें कासिम की मौत हो गई और समयदीन का इलाज चल रह है।

 

यूपी: हापुड़ में गोकशी के आरोप में मुस्लिम शख्स की बेरहमी से पीट-पीट कर हत्या

यूपी: हापुड़ में गोकशी के आरोप में मुस्लिम शख्स की बेरहमी से पीट-पीट कर हत्या, एक अन्य साथी बुजुर्ग की भी लाठी डंडों से की पिटाई, घटना से तनाव के मद्देनजर पुलिस-पीएसी तैनात की गई है।http://www.jantakareporter.com/hindi/mob-kills-man-on-information-of-cow-slaughter-in-hapur/192928/

Posted by जनता का रिपोर्टर on Tuesday, 19 June 2018

 

 

Courtesy: .jantakareporter

Categories: India

Related Articles