जनता दरबार में BJP मुख्यमंत्री का घमंड, फरियादी बुजुर्ग महिला को ट्रांसफर मांगने पर जेल भेजा, नौकरी से सस्पेंड किया

जनता दरबार में BJP मुख्यमंत्री का घमंड, फरियादी बुजुर्ग महिला को ट्रांसफर मांगने पर जेल भेजा, नौकरी से सस्पेंड किया

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के जनता दरबार जनता पर ही ज़ुल्मों का दरबार बनता जा रहा है। सीएम रावत ने अपनी फरियाद लेकर आई एक महिला शिक्षक को सस्पेंड कर दिया है।

इस घटना के चलते उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का जनता दरबार सुर्खियों में बना हुआ है।

विधवा महिला उत्तरकाशी के एक प्राइमरी स्कूल में 20 वर्षों से शिक्षिका हैं । लंबे समय से अपने ट्रांसफर करने की मांग कर रही है। लेकिन अब तक उनका ट्रांसफर नहीं हुआ, जिससे खफा महिला शिक्षिका रावत के जनता दरबार में पहुंची।

व्यवस्था से परेशान शिक्षिका ने दरबार में अपना गुस्सा ज़ाहिर कर दिया। शिक्षिका ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को चोर तक कह दिया।

सीएम ने भी उसकी समस्या हल करने के बजाए शिक्षिका को ससपेंड करने का आदेश दे दिया ।

उत्तराखंड मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के जनता दरबार में ऐसा हंगामा पहली बार सुनने को नहीं मिला है, इससे पहले ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे के जहर खाने से भी सीएम दरबार चर्चा का विषय बना था।

Courtesy: Boltaup

Categories: India

Related Articles