योगी राज में होने वाले एनकाउंटर पर सख्त हुआ सुप्रिम कोर्ट, योगी सरकार को भेजा नोटिस

योगी राज में होने वाले एनकाउंटर पर सख्त हुआ सुप्रिम कोर्ट, योगी सरकार को भेजा नोटिस

लखनऊ – उत्तर प्रदेश में  योगी सरकार आने के बाद लगातार जारी एनकाउंटर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने यूपी की योगी सरकार को आड़े हाथों लिया है. सुप्रीम कोर्ट ने प्रदेश सरकार को इस बारे में एक नोटिस भी जारी किया है. इस नोटिस के तहत योगी सरकार से सवाल पूछा गया है.

बता दें कि यूपी सरकार में 2017 से लेकर अब तक 500 एनकाउंटर हुए हैं जिसमें 58 लोग मारे गए हैं. लगातार हो रहे इन एनकाउंटर को लेकर मानवाधिकार संगठन योगी सरकार से सवाल कर रहे थे. सुप्रीम कोर्ट में PUCL ने एक याचिका डाली थी. इस याचिका के अनुसार उत्तर प्रदेश में जो एनकाउंटर हो रहे हैं उसमें अधिकतर फ़र्ज़ी हैं. इस मामले में योगी सरकार के लिए राहत की बात बस इतनी है कि अभी सुप्रीम कोर्ट ने  नेशनल ह्यमून राईट कमीशन (NHRC) को नोटिस जारी करने से इनकार कर दिया है.

PUCL द्वारा दायर की गयी इस याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने ये नोटिस योगी सरकार को भेजा है.  गौरतलब है कि PUCL (पीपुल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टी) मानवाधिकार के लिए काम करने वाला संगठन है. इस संगठन ने सवाल उठाया है कि इतने कम समय में इतने एनकाउंटर कैसे हो गए. इस मामले की अगली सुनवाई तीन सप्ताह बाद की जायेगी. प्रदेश सरकार की तरफ से ऐश्वर्या भाटी वकील हैं. उन्हें PUCL की जांच की एक कॉपी दी जायेगी.

बता दें कि यूपी में योगी सरकार के गठन के बाद से ही एनकाउंटर का दौर जारी है. अभी तक इसमें 58 लोग मारे जा चुके हैं. जहां सरकार इसे कामयाबी की तरह देख रही है, मानवाधिकार से जुड़े लोग इसे ठीक नहीं समझ रहे. मानवाधिकार संघठनों का कहना है कि इनमें से अधिकतर फ़र्ज़ी हैं. सरकार का दावा है कि एनकाउंटर से अपराध कम किया जा रहा है, जबकि गृह मंत्रालय के मुताबिक यूपी में योगी सरकार आने के बाद अपराध का ग्राफ तेजी से ऊपर गया है।

Courtesy: nationalspeak

Categories: Politics

Related Articles