वादे निभाने के लिए मोदी सरकार को 5 साल का समय और दें: सुब्रमण्यम स्वामी

वादे निभाने के लिए मोदी सरकार को 5 साल का समय और दें: सुब्रमण्यम स्वामी

2019 लोकसभा चुनाव से पहले बयानबाजी का दौर जारी है। वरिष्ठ भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को अपने वादे निभाने के लिए पांच साल का एक और कार्यकाल दिए जाने की आवश्यकता है। हालांकि, स्वामी ने यह भी कहा कि देश की अर्थव्यवस्था ‘अच्छी स्थिति’ में नहीं है, क्योंकि वो वित्त मंत्री के पद पर नहीं हैं।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, राज्यसभा सांसद स्वामी ने कहा, ‘‘आर्थिक विकास से वोट नहीं मिलने वाले। (पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी) वाजपेयी जी ने अपनी सरकार के प्रचार के लिए ‘इंडिया शाइनिंग’ नारे का उपयोग किया लेकिन वो असफल रहे। भाजपा ने अपनी आस्था (हिंदुत्व) और भ्रष्टाचार मुक्त माहौल पर जोर दिया। इसीलिए उसे 2014 में इतनी ज्यादा सीटें मिलीं।’’

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि सत्तारुढ़ पार्टी ने मतदाताओं से किए गए वादे पूरे करने शुरू कर दिए हैं और उसे अपना काम पूरा करने के लिए और पांच साल का समय देने की जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं ये नहीं कहूंगा कि हमने 2014 में जो वादे किए थे, उन्हें हमने पूरा कर दिया है, लेकिन हमने उनका मान रखना शुरू कर दिया है। हमने जो चीजें शुरू की हैं, उन्हें पूरा करने के लिए हमें और पांच साल के समय की आवश्यकता है।’’

इस दौरान स्वामी विपक्षी दल कांग्रेस पर हमला करने से भी नहीं चूके। कांग्रेस को ‘बेल गाड़ी’ जैसा बताने की मोदी की हालिया टिप्पणी पर स्वामी ने कहा कि ‘बेल गाड़ी’ अब ‘तिहाड़ विहार’ करने जा रही है। उन्होंने कहा, ‘‘अब बेशक मैं चिदंबरम को सिखा रहा हूं कि असल हिंदू आतंक क्या होता है। निश्चित तौर पर मैं क्रूर नहीं बनूंगा, इसलिए मैं उनकी पत्नी, उनके बेटे और बहू को (जेल) भेजूंगा। मैं कांग्रेस पार्टी के लिए भी क्रूर नहीं बनूंगा। मैं कइयों को जेल भेजूंगा ताकि उनकी कार्य समिति की अगली बैठक तिहाड़ जेल में हो सके।’’

Courtesy: .outlook

Categories: India

Related Articles