कठुआ कांडः आरोपियों के वकील का नया आरोप, अदालत में सबूत किये बगैर ही कहा ‘इस मामले में ‘जिहादियों’ का हाथ’

कठुआ कांडः आरोपियों के वकील का नया आरोप, अदालत में सबूत किये बगैर ही कहा ‘इस मामले में ‘जिहादियों’ का हाथ’

जम्मू –  देश की मानवीय संवेदनाओं को झकझोर कर रख देने वाले कठुआ गैंगरेप एवं हत्याकांड के आरोपियों के वकील की तरफ से अदालत मे कहा गया है कि इस केस के पीछे ‘जिहादियों’ का हाथ है। और उन्होंने ही इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। आरोपियों के वकील दिनेश शर्मा की तरफ से कहा गया  कि जम्मू – कश्मीर की धार्मिक जनांकिकी (डेमोग्राफी) में तब्दीली लाने की नीयत से आठ साल की लड़की की लाश को रखा गया था।

बचाव पक्ष के वकील ने अदालत में लगाये इन अपने आरोप के समर्थन में कोई सबूत पेश नहीं किया है। बता दें कि वकील ने यह आरोप ऐसे समय में लगाया है जब इस मामले के शिकायतकर्ता ने बीते रोज ही पंजाब के पठानकोट की जिला एवं सत्र अदालत में अपना बयान दर्ज कराने की प्रक्रिया पूरी की है।

शिकायतकर्ता ने कहा कि उसे इस केस का मुख्य आरोपी सांझी राम खानाबदोश समुदाय को निशाना बनाता रहता था ताकि वे इस गांव में बस ना सकें। बचाव पक्ष के वकील ने दिनेश शर्मा ने जम्मू एंड कश्मीर के राज्यपाल एन एन वोहरा से अपील की है इस मामले की सीबीआई जांच के आदेश दें। उधर न्यायिक विशेषज्ञों ने दिनेश शर्मा के दावे और मांग पर हैरानी जताई है क्योंकि सुप्रिम कोर्ट के निर्देश पर ही यह मामला जिला एवं सत्र अदालत को सौंपा गया है और निचली अदालत पहले ही आरोपियों के खिलाफ आरोप तय कर चुकी है।

गौरतलब है कि इसी साल दस जनवरी को जम्मू कश्मीर के बकरावल समुदाय की एक आठ वर्षीय बच्ची गायब हो गई थी, परिजनों ने उसे कई रोज तक तलाश किया लेकिन वह नहीं मिली, फिर उसकी लाश बरामद हुई थी, परिजनों को शक था कि उनकी बेटी के साथ दरिंदगी की गई है, और आखिरकार उनका शक सही साबित हुआ, इस मामले में दो पुलिसकर्मी और एक मंदिर का पुजारी भी आरोपी है।

Courtesy: nationalspeak

Categories: Crime

Related Articles