अखिलेश का योगी सरकार पर हमला, कहा ‘‘कैंचीवाली सरकार’ या तो कैंची से सामाजिक सौहार्द के धागे काट रही है या बस हमारे….’

अखिलेश का योगी सरकार पर हमला, कहा ‘‘कैंचीवाली सरकार’ या तो कैंची से सामाजिक सौहार्द के धागे काट रही है या बस हमारे….’

नई दिल्ली – समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एंव यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर यूपी की योगी सरकार पर हमला बोला है। अखिलेश ने योगी सरकार को कैंची वाली सरकार करार दिया है। दरअस्ल अखिलेश इस बात से खफा हैं क्योंकि यूपी में मोबाईल कंपनी सैमसंग का प्लांट शुरू होने जा रहा है, दरअस्ल इसकी शुरूआत सपा सरकार में हुई थी।

अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश में दुनिया का जो सबसे बड़ा मोबाइल फ़ोन उत्पादक प्लांट शुरू हो रहा है उसकी शुरुआत हमारी तरक़्क़ी की सोच ने 2016 में ही सैमसंग कम्पनी को हर अनुमति प्रदान करके की थी. ये ‘कैंचीवाली सरकार’ या तो कैंची से सामाजिक सौहार्द के धागे काट रही है या बस हमारे कामों के उद्घाटन के फ़ीते.

बता दें कि अखिलेश ने अमित शाह के यूपी दौरे को लेकर भी भाजपा पर निशाना साधा था और कहा था कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव येनकेन प्रकारेण जीतने के हिमायती हैं। भाजपा अध्यक्ष इन दिनों उत्तर प्रदेश में दौरे पर दौरे कर रहे हैं और सन् 2019 में विपक्ष की खिलाफत का मंत्र बांट रहे हैं। उन्हें न तो भाजपा कार्यकर्ताओं पर और नहीं प्रदेश के मतदाताओं पर विश्वास है बल्कि वे कारपोरेट घरानों की प्रबंधन प्रणाली के जरिए चुनाव जीतने की व्यवस्था कर रहे है।

 

 

भाजपा अध्यक्ष द्वारा आयोजित की गई भाजपा आई.टी सेल की मीटिंग पर तंज करते हुए अखिलेश ने कहा था कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अब नए अवतार में हेड़ मास्टर बनकर अपने कार्यकर्ताओं को होमवर्क बांटते घूम रहे हैं। वे जिन उपलब्धियों के प्रचार प्रसार की बात करते हैं उनके कार्यकर्ता भी उसे नहीं समझ पा रहे हैं। भाजपा चुनावों के अपने संकल्पों और घोषणा पत्र के प्रति ईमानदार नहीं हैं।

अखिलेश ने कहा कि भाजपा तो लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं में ही विश्वास नहीं करती है तभी तो चुनावों को किसी भी तरह जीतने का मैनेजमेन्ट करती है। भाजपा नेता सिर्फ भटकाव की बातें करना जानते हैं लेकिन जनता भाजपा की सच्चाई जान गई है। और वह भाजपा को जवाब देने की तैयारी में है।

 

Courtesy: nationalspeak.

Categories: Politics

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*