मंत्री सिद्धार्थनाथ ने इलाहाबाद का नाम ‘प्रयाग’ रखने की मांग की, पत्रकार बोलीं- मंत्रीजी कभी अस्पतालों की हालत भी देख लें

मंत्री सिद्धार्थनाथ ने इलाहाबाद का नाम ‘प्रयाग’ रखने की मांग की, पत्रकार बोलीं- मंत्रीजी कभी अस्पतालों की हालत भी देख लें

उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने संगम नगरी इलाहाबाद का नाम बदलकर ‘प्रयाग’ करने की सिफारिश की है। इस संबंध में उन्होंने एक पत्र राज्यपाल राम नाईक को लिखा है।

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि राज्यपाल महोदय ने ‘बॉम्बे’ का नाम ‘मुंबई’ करने में अहम भूमिका निभाई थी। उम्मीद है वह इस पत्र को गंभीरता से लेकर मेरे अनुरोध पर विचार करेंगे।

सिद्धार्थनाथ सिंह की इस सिफ़ारिश पर पत्रकार रोहिणी सिंह ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह अपने मुख्य कार्य यूपी में सरकारी अस्पतालों की स्थिति में सुधार करने के बजाय सामान्य रूप से सभी गैर ज़रूरी मुद्दों पर तवज्जो देते हैं!”

बता दें कि, इलाहाबाद में अगले साल कुंभ मेला होना है। योगी सरकार इसकी अंतरराष्ट्रीय ब्रैंडिंग पर काम कर रही है। इसी बीच संघ से जुड़े संगठनों, अखाड़ा परिषद और बीजेपी के स्थानीय नेताओं ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयाग या प्रयागराज करने की मांग कर रहे हैं।

इस संबंध में डिप्टी सीएम केशव मौर्य भी बयान दे चुके हैं। मई महीने में ‘इलाहाबाद’ दौरे के वक्त उन्होंने कहा था कि ‘इलाहाबाद’ की पहचान यहां तीन नदियों के संगम की वजह से है, इसलिए इसका नाम ‘प्रयागराज’ होना चाहिए। यही नहीं, उन्होंने कुंभ आयोजन से पहले इस काम को पूरा करने का आश्वासन भी दिया था।

ख़बरों की मानें तो ख़ुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज रखना चाहते हैं। सिद्धार्थनाथ सिंह का यह पत्र उसी कड़ी में आगे बढ़ाया गया कदम माना जा रहा है। संभावना जताई जा रही है कि योगी सरकार इस संबंध में जल्द ही आदेश पारित कर ‘इलाहाबाद’ का नाम ‘प्रयागराज’ कर देगी।

Courtesy: Boltaup

Categories: India

Related Articles