बीजेपी विधायक का विवादित बयान, कहा- डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या ईश्वर ने करवाई

बीजेपी विधायक का विवादित बयान, कहा- डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या ईश्वर ने करवाई

अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले उत्तर प्रदेश के बैरिया विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक सुरेंद्र सिंह ने इस बार पूर्वांचल के कुख्यात माफिया सरगना प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की मर्डर केस को लेकर विवादित बयान दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह का कहना है कि डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या ईश्वर ने करवाई है। हालांकि, संविधान उसकी हत्या में रुकावट बना था लेकिन आखिरकार ईश्वर उसकी हत्या करने में सफल हो गए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मुन्ना बजरंगी की पत्नी द्वारा योगी सरकार पर लगाए जा रहे आरोप गलत हैं। इतना ही नहीं मुन्ना बजरंगी की मौत पर बीजेपी विधायक ने खुशी जाहिर की है।

बता दें कि, यह कोई पहली बार नहीं है जब बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने विवादित बयान दिया हो। सुरेन्द्र सिंह अकसर अपने विवादित बयानों को लेकर मीडिया की सुर्खियों में बने रहते है।

अभी हाल ही में बीजेपी विधायक सुरेन्द्र सिंह ने कहा था कि, ‘मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि भगवान राम भी आ जाएंगे तो इन घटनाओं (रेप) पर नियंत्रण कर पाना संभव नहीं है। यह सामाज का स्वाभाविक प्रदूषण है, जिससे कोई भी वंचित नहीं रहने वाला है।’

बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने दुष्कर्म की घटनाओं पर काबू पाने का उपाय भी बताया। उन्होंने कहा, ‘सभी का धर्म है कि समाज के सभी लोगों को अपना परिवार समझें, सभी को अपनी बहन समझने के धर्म का पालन करना चाहिए। संस्‍कार के बल पर ही इन घटनाओं पर नियंत्रण होगा। सविधान के बल पर नियंत्रण नहीं होगा।’

इससे पहले विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा था कि, ‘ऑफिशियल्स से अच्छा चरित्र वैश्याओं का होता है, वह पैसा लेकर कम से कम अपना काम तो करती हैं और स्टेज पर नाचती हैं। पर ये ऑफिशियल्स तो पैसा लेकर भी आपका काम करेंगे कि नहीं, इसकी कोई गारंटी नहीं है।’

मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह का कहना है कि हत्या में कई नेता, सरकार और पुलिस शामिल है। सीमा का आरोप है कि उनके पति की हत्या एक साजिश के तहत की गई है। बता दें कि एक हफ्ते पहले ही सीमा सिंह ने चेताया था कि उनके पति को जान का खतरा है।

बता दें कि, पूर्वांचल के कुख्यात माफिया सरगना प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की सोमवार (9 जुलाई) सुबह यूपी के बागपत जिले की जेल में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जेल में माफिया डॉन की हत्या से जेल प्रशासन से लेकर लखनऊ तक अधिकारियों में हड़कंप मच गया, पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

मुन्ना बजरंगी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से उसे सात गोलियां मारे जाने की पुष्टि हुई है। समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश ने कहा ‘उसके शरीर पर सात गोलियां लगीं थीं। सिर का दायां हिस्सा गोलियां लगने से बाहर निकल आया था।’ उन्होंने बताया कि पुलिस ने गटर साफ कराकर उसमें से घटना में प्रयुक्त पिस्तौल, दो मैगजीन और 22 कारतूस बरामद कर लिये हैं।

जय प्रकाश ने बताया कि आरोपी हमलावर सुनील राठी को न्यायालय से रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ की जा रही है।उन्होंने कहा कि हत्या की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं हो सकी है। उन्होंने हालांकि कहा कि सुपारी को लेकर सुनील और मुन्ना की बहस हुई थी इसके बाद सुनील ने उसकी हत्या कर दी।

सीएम योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे मामले की जांच कराने का आदेश दिया है। इस बीच योगी आदित्यनाथ ने कहा, जेल में हत्या कैसे हो गई। इसकी जांच कराई जाएगी और इसमें जो भी दोषी होगा उसे बख्शा नही जाएगा। पूरे मामले की रिपोर्ट मंगाई गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘इस मामले में जेलर को सस्पेंड कर दिया गया है। न्यायिक जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जेल परिसर के भीतर इस तरह की वारदात होना गंभीर मामला है। इस पूरे केस की गंभीरता के साथ जांच की जाएगी और जो भी दोषी होगें उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।’

Courtesy: jantakareporter.

Categories: India

Related Articles