2019 में इस सीट से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी बसपा सुप्रिमो मायावती, कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर

2019 में इस सीट से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी बसपा सुप्रिमो मायावती, कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर

नई दिल्‍ली – बसपा सुप्रिमो और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के बारे में माना जाता है कि वो अक्सर लोकसभा चुनाव नहीं लड़तीं. राजनीतिक पंडित मानते हैं कि वो ऐसा इसलिए करती हैं ताकि वे पूरे देश का दौरा बगैर किसी चिंता के कर सकें. राजनीति के जानकारों का मानना है कि अगर मायावती लोकसभा चुनाव लड़ेंगी तो जिस सीट से लड़ेंगी उस सीट पर भी उन्हें कुछ तो चुनाव प्रचार करना ही पड़ेगा. लेकिन इस बार चर्चा चल रही है कि बसपा सुप्रिमो मायावती 2019 के लोकसभा चुनाव में उमीदवार बन सकती हैं.

न्यूज़ 18 इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक़ मायावती इस बार खुद भी चुनाव लड़ेंगी. रिपोर्ट में दावा किया गया  है कि वे उत्तर प्रदेश के अम्बेडकरनगर या फिर पश्चिमी यूपी के बिजनौर से चुनाव लड़ सकती हैं. ऐसा माना जाता है कि इन सीटों पर मायावती बहुत आसानी से जीत दर्ज कर लेंगी. उनके चुनाव लड़ने का मकसद कार्यकर्ताओं में जोश भरने से है. जानकारी के लिये बता दें कि पिछले लोकसभा चुनाव में बसपा 19 लोकसभा सीटों से खिसकर कर शून्य पर आ गई थी हालांकि उनका वोट प्रतिशत बढ़ा था.

इससे पहले बसा सुप्रिमो मायावती 2004 में सांसद चुन कर आईं थीं. तब भी उन्होंने अंबेडकरनगर से ही लोकसभा का चुनाव जीता था. 15 साल बाद वे एक बार फिर से अंबेडकरनगर से चुनाव लड़ सकती हैं. हालांकि ऐसी उम्मीद भी की जा रही है कि वो अम्बेडकरनगर की जगह बिजनौर से भी चुनाव लड़ सकती हैं. राजनीतिक जानकार मानते हैं कि इन दोनों ही लोकसभा सीटों पर बसपा मज़बूत है.

सपा से गठबंधन के बाद बसपा यहां और मज़बूत हो गई है. इस सीट पर छः लाख के करीब वोटर्स हैं. इसमें 25 फीसदी अनुसूचित जाति के हैं जबकि यहां मुसलमान, यादव, कुर्मी और दूसरी जातियां भी ठीक ठाक संख्या में हैं और प्रभावी हैं. बसपा नेताओं को उम्मीद है कि अगर यहां से मायावती चुनाव लड़ेंगी तो उन्हें बड़ी जीत हासिल होगी.

Courtesy: nationalspeak

Categories: Politics

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*