अगर मोदीजी ने सारे हिंदू बच्चों को ‘नौकरी’ दे दी तो रैलियों में कौन आएगा और अच्छी ‘शिक्षा’ दे दी तो विरोधियों को गाली कौन देगाः सोशल

अगर मोदीजी ने सारे हिंदू बच्चों को ‘नौकरी’ दे दी तो रैलियों में कौन आएगा और अच्छी ‘शिक्षा’ दे दी तो विरोधियों को गाली कौन देगाः सोशल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी के हिंदू हितैशी होने के दावों पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी को सच में हिंदुओं की चिंता होती तो वो हिंदुओं के बच्चों को रोज़गार और अच्छी शिक्षा देती।

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीटर के ज़रिए कहा, “भाजपा कहती है कि वो हिंदुओं की पार्टी है। तो कम से कम हमारे हिंदुओं के बच्चों की ही नौकरी लगवा दो? हिंदुओं के बच्चों को ही अच्छी शिक्षा दिलवा दो? किसी के लिए कुछ तो करो”।

मुख्यमंत्री के इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए एक यूज़र ने बीजेपी पर तंज़ कसा है। तरसेम लाल नाम के यूज़र ने ट्विटर पर लिखा, “लो जी, आज हमारे सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी अजीब बात कर दी, इन्होंने सभी को अपने जैसा समझ रहे हैं!

अगर मोदीजी ने सारे हिंदु बच्चों को नौकरी दे दी तो रैलियों में कौन आएगा ? अच्छी शिक्षा दिलवा दी तो विरोधियों को गाली कौन देगा”?

बीजेपी की हिंदू हितैशी छवि को लेकर अक्सर सवाल उठते रहे हैं। विपक्षियों का आरोप है कि बीजेपी इस छवि के साथ चुनाव जीतने के लिए हिंदुओं का इस्तेमाल तो करती है, लेकिन उनके विकास के लिए कुछ नहीं करती। इससे पहले लालू प्रसाद यादव की राष्ट्रीय जनता दल ने भी बीजेपी के हिंदू हितैशी होने पर सवाल खड़े किए थे।

आरजेडी ने पूछा था कि भाजपा बताए कि उसने आज तक हिंदुओं के लिए क्या किया? कौन सा उद्धार किया? किस प्रकार कुछ भी भला किया? भाषणबाजी के अलावा क्या किया”?

ग़ौरतलब है कि मोदी सरकार के चार साल के शासनकाल पर नज़र डालें तो ऐसी कोई परियोजना नहीं दिखाई देती जिसका लाभ सीधे तौर पर हिंदुओं को मिला हो। आंकड़ों की मानें तो हिंदू नवजवानों को रोज़गार मुहैया कराने में सरकार पूरी तरह से नाकाम रही है।

इसके साथ ही हिंदू परिवारों में शिक्षा की स्थिति में भी कोई खास सुधार नहीं हुआ है। वहीं न्याय व्यवस्था पर नज़र डालें तो कई हिंदू रेप पीड़िताओं को मोदी सरकार के शासनकाल में न्याय नहीं मिल सका है। कुल मिला कर देखा जाए तो बीजेपी के सत्ता में आने से आम हिंदू परिवारों की स्थिति में कोई खास सुधार नहीं हुआ है।

Courtesy: Boltaup

Categories: India

Related Articles