शशि थरूर के ऑफिस में तोड़फोड़, भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगा आरोप

शशि थरूर के ऑफिस में तोड़फोड़, भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगा आरोप

कांग्रेस नेता शशि थरूर पिछले कई दिनों से ‘हिंदू पाकिस्तान’ वाले बयान को लेकर सुर्खियों में हैं। भाजपा इस बयान को लेकर उन पर निशाना साध रही है और माफी मांगने की मांग कर चुकी है, वहीं कांग्रेस थरूर के बयान से किनारा करती नजर आई।

वहीं, आज केरल के त्रिवेंद्रम में शशि थरूर के ऑफिस में हमला किया गया और तोड़फोड़ की गई। शशि थरूर ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर इसे लेकर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ अपमानजनक नारे लगाए गए और मुझसे पाकिस्तान जाने को कहा गया।

थरूर ने कहा, ‘लोग यहां अपनी समस्याओं और चिंताओं के साथ आए थे और आपने उन्हें भगा दिया। क्या हम अपने देश में यह चाहते हैं? मैं एक नागरिक के तौर पर यह सवाल कर रहा हूं, सांसद के तौर पर नहीं। यह वह हिंदू धर्म नहीं है, जिसे मैं जानता हूं।‘

11 जुलाई को शशि थरूर ने कहा था कि दोबारा जीतने पर भाजपा एक नया संविधान लिखेगी जो भारत को पाकिस्तान जैसे राष्ट्र में बदलने का रास्ता साफ करेगा, जहां अल्पसंख्यकों के अधिकारों का हनन किया जाएगा, उनका कोई सम्मान नहीं होगा। उन्होंने यह भी कहा था कि भाजपा दोबारा लोकसभा चुनाव जीतती है तो देश का लोकतांत्रिक संविधान खत्म हो जाएगा, क्योंकि उनके पास भारतीय संविधान को खत्म करने और एक नया संविधान लिखने के सारे तत्व मौजूद हैं। नया संविधान पूरी तरह से हिंदू राष्ट्र के सिद्धांतों पर आधारित होगा, जो अल्पसंख्यकों के अधिकारों को पूरी तरह से खत्म कर देगा और राष्ट्र को ‘हिंदू पाकिस्तान’ बना देगा।

सांसद के इस बयान पर भाजपा ने पलटवार करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को इसके लिए माफी मांगने को कहा था। भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा था, ‘शशि थरूर कहते हैं कि अगर भाजपा 2019 में फिर से सत्ता में आती है तो भारत ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा। कांग्रेस भारत को नीचा दिखाने और हिंदूओं को बदनाम करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ती है। ‘हिंदू-आतंकवाद’ से लेकर ‘हिंदू-पाकिस्तान’ तक कांग्रेस की पाकिस्तान को खुश करने वाली नीतियों का कोई जवाब नहीं है।’

 

Courtesy: .outlook

Categories: India

Related Articles