यूपी के मुरादाबाद में 4 साल की मासूम के साथ नाबालिग ने किया रेप, पॉस्को एक्ट में दर्ज हुआ मामला

यूपी के मुरादाबाद में 4 साल की मासूम के साथ नाबालिग ने किया रेप, पॉस्को एक्ट में दर्ज हुआ मामला

देश में अन्य अपराधों के साथ-साथ यौन अपराधों में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है और इनका शिकार होने वालों में बच्चियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। हाल ही में उत्तर प्रदेश में चार साल की मासूम के साथ रेप का मामला सामने आया है। आरोप है कि 15 साल के लड़के ने 4 साल की बच्ची के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया है।

‘सख्त सजा दिलाने की हम हर संभव कोशिश करेंगे’

यह घटना मुरादाबाद की है, जहां 15 साल के एक बच्चे ने मासूम बच्ची के साथ रेप किया। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस जांच में जुट गई है। घटना के बारे में मुरादाबाद के आईजी बिनोद कुमार सिंह ने बताया कि आरोपी नाबालिग है लेकिन उसे सख्त से सख्त सजा दिलाने की हम हर संभव कोशिश करेंगे।

पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज 

मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए मझोला पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया, जबकि बच्ची को मेडिकल के लिए भेजा है।

नाबालिग आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

एएनआई के मुताबिक, मुरादाबाद की पुलिस जांच में जुट गई है। आईजी बिनोद कुमार सिंह रेप पीड़िता का बयान लेने पहुंचे। घटना मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र का है। बताया जा रहा है कि इस मामले में पुलिस ने 15 साल के नाबालिग आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच कर रही है। आरोपी ने पड़ोस में रहने वाली 5 साल की बच्ची से तीन दिन पहले इस घटना को अंजाम दिया था।

धमकी से डरकर बच्ची को लेकर मायके चली गई थी मां

वारदात के बाद आरोपी पक्ष की धमकी से डरकर बच्ची को लेकर उसकी मां मायके चली गई। वहां जाकर परिजनों के साथ थाने पर पहुंची और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया।

इससे पहले भी यूपी में नाबालिग ने बच्ची के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया

इससे पहले भी यूपी में इसी तरह का मामला सामने आया था, जब एक 10 साल के नाबालिग बच्चे ने स्कूल के भीतर 6 साल की बच्ची के साथ रेप जैसे घिनौने अपराध को अंजाम दिया। हालांकि पुलिस ने 10 साल के नाबालिग को इस मामले में हिरासत में लिया है। घटना जिले के नंदगंज थाना क्षेत्र का था। नंदगंज के थानाध्यक्ष किशोर कुमार चौबे के अनुसार आरोपी और पीड़िता गांव के ही पूर्व माध्यमिक और प्राथमिक विद्यालयों के विद्यार्थी हैं।

 

Courtesy: outlook

Categories: Crime