बिहारः 40 अनाथ बच्चियों से महीनों तक रेप, न नीतीश जी की अंतरात्मा जागी और न मोदी जी का 56 इंच का सीना दिखा

बिहारः 40 अनाथ बच्चियों से महीनों तक रेप, न नीतीश जी की अंतरात्मा जागी और न मोदी जी का 56 इंच का सीना दिखा

मुज़फ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण  मामले को लेकर सूबे की नीतीश सरकार अब घिरती नज़र आ रही है। सोशल मीडिया से लेकर विधान परिषद तक में इस मुद्दे को लेकर सरकर की जमकर आलोचना हो रही है।

इस मामले को लेकर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम एवं विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव लगातार नीतीश सरकार पर हमलावर हैं। तेजस्वी ने आरोप लगाया कि 40 लड़कियों के दुष्कर्म का मुख्य आरोपी बालिका गृह का संरक्षक सत्ता के रसूखदारों का करीबी है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “बालिका गृह की 40 अनाथ नाबालिग़ लड़कियों के साथ महीनों तक बलात्कार! उन्हें बेहोश कर बड़े नेताओं और अफ़सरों के पास भेजा जाता था। एनजीओ का मालिक बहुत रसूख़दार है। सीएम नीतीश कुमार उसके लिए प्रचार कर चुके है। उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी उसे अपने कक्ष में पास बैठाकर मिठाई खिलाते हैं”।

वहीं तेजस्वी के इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए राजनीतिक विश्लेषक कुमार शाश्वत ने राज्य और केंद्र सरकार के साथ ही मीडिया पर भी हमला बोला।

शाश्वत ने ट्वीट कर लिखा, “40 अनाथ नाबालिग़ लड़कियों के साथ महीनों तक बलात्कार! ना नितीश जी की अंतरात्मा जाग रही है और ना मोदी जी का छपन्न इंच का सीना नजर आ रहा है| ‘बिहार में जंगल राज’ वाला हैडलाइन भी नहीं चल रहा चैनल और अख़बार में”|

बता दें कि 42 लड़कियों में से 24 लड़कियों की मेडिकल जांच में रेप और मारपीट की पुष्टि हुई है। कई लड़कियों के शरीर पर जले के निशान और इनमें सभी नाबालिग हैं, इन्हीं में एक लड़की ने आरोप लगाया था की उनकी एक साथी की पीटकर हत्या कर दी गई और उसे परिसर में ही दफ़न कर दिया था। लड़की के बयान के आधार पर खुदाई की जा रही है।

Categories: Crime