शर्मनाक: आठ महीने की गर्भवती महिला के साथ आठ व्यक्तियों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, पति को बांधकर कार में किया बंद

शर्मनाक: आठ महीने की गर्भवती महिला के साथ आठ व्यक्तियों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, पति को बांधकर कार में किया बंद

महाराष्ट्र के सांगली में सतारा की रहने वाली आठ महीने की एक गर्भवती महिला के साथ आठ व्यक्तियों ने सामूहिक दुष्कर्म किया, इस दौरान आरोपियों ने महिला के पति को बांधकर कार में बंद कर दिया। इस घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए।

यह घटना मंगलवार सुबह करीब छह बजे हुई जब 20 वर्षीय महिला अपने पति (होटल मालिक) के साथ तासगांव के तुर्चि फाटा में एक करोबारी मीटिंग के लिए आई थी। मामले को गंभीरता से लेते हुए महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग ने गुरुवार को स्थानीय पुलिस से रिपोर्ट मांगी।

समाचार एजेंसी आईएनएस के हवाले से एक न्यूज़ वेबसाइट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, तासगांव पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि महिला उनके पति अपने होटल के कामकाज के लिए एक दम्पति की तलाश कर रहे थे। आरोपी मुकुंद माने ने महिला के पति को फोन कर कहा कि वह एक ऐसे दम्पति को जानता है जो उनके लिए काम करने को तैयार है और इस काम के लिए उसने दोनों को तुर्चि फाटा बुला लिया। माने ने उन्हें पहले ही 20,000 रुपये एडवांस लाने के लिए भी कहा।

जब होटल कारोबारी और उनकी पत्नी बताए हुए स्थान पर पहुंचे तब माने और उसके आदमियों ने उन्हें बुरी तरह पीटा और महिला के सोने के गहनों के अलावा उनके पास मौजूद नकदी को भी लूट लिया। बदमाशों ने पति को बांधकर वाहन के अंदर बंद कर दिया और फिर कथित रूप से महिला के साथ दुष्कर्म किया। अपराध को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी वहां से भाग गए।

हमलावरों ने उन्हें धमकाया कि वे पुलिस के पास न जाएं क्योंकि वे इस स्थान में काफी प्रभावशाली हैं और कोई भी उनकी बात नहीं सुनेगा। बाद में दम्पति ने तासगांव पुलिस स्टेशन तक पहुंच कर इस मामले की शिकायत दर्ज कराई। महिला ने प्राथमिकी में आठ में से चार आरोपियों मुकुंद माने, सागर, जावेद खान और विनोद का नाम दर्ज कराया है।

घटना के लगभग 48 घंटे बाद भी पुलिस किसी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष विजया राहतकर ने सांगली के पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर व्यक्तिगत रूप से मामले की जांच करने और विस्तृत रिपोर्ट जमा करने के लिए कहा है।

Categories: Crime

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*