एशियाई खेल 2018 : रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने भारत को छठवां स्वर्ण पदक दिलाया

एशियाई खेल 2018 : रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने भारत को छठवां स्वर्ण पदक दिलाया

18वें एशियाई खेलों के छठवें दिन भारत को अपना छठवां स्वर्ण पदक जीतने में कामयाबी मिली है. यह स्वर्ण पदक टेनिस के युगल मुकाबले में रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने जीता है जिसने फाइनल मुकाबले में शानदार प्रदर्शन करते हुए कजाकिस्तान के एलेक्जेंडर बुबलिक और डेनिस येवसेव की जोड़ी को सीधे सेटों में 6-3 और 6-4 से मात दी.

इन एशियाई खेलों की टेनिस प्रतिस्पर्धाओं में भारत का यह पहला स्वर्ण पदक है. इससे पहले बुधवार को टेनिस के एकल मुकाबले में अंकिता रैना को कांस्य पदक जीतने में सफलता मिली थी. टेनिस के अलावा शूटिंग मुकाबलों में भी आज भारत की झोली में एक कांस्य पदक गिरा है. भारत को यह सफलता 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में हीना सिद्धू ने दिलाई है. इस मुकाबले के फाइनल में भारत की मनु भाकर ने भी अपनी जगह बनाई थी लेकिन पदक पर निशाना लगा पाने में उन्हें कामयाबी नहीं मिल सकी.

इन पदकों से पहले भारत ने आज रोइंग की अलग-अलग प्रतिस्पर्धाओं में एक स्वर्ण के अलावा दो कांस्य पदक भी जीते थे. इस तरह अब भारत के कुल पदकों की संख्या बढ़कर 23 पर पहुंच गई है. साथ ही शुक्रवार को दो स्वर्ण पदक जीतने से पदक तालिका में भी भारत अब सातवें पायदान पर पहुंच गया है. इन खेलों के छठवें दिन कई अन्य खेल स्पर्धाओं में भी भारत को पदक जीतने की उम्मीद है.

 

Categories: Sports