जब 65रु. में पेट्रोल मिलता था तो मीडिया इसे ‘महंगाई डायन’ बताती थी, अब 85रु. का हो गया तो भी सब चुप क्यों हैं?

जब 65रु. में पेट्रोल मिलता था तो मीडिया इसे ‘महंगाई डायन’ बताती थी, अब 85रु. का हो गया तो भी सब चुप क्यों हैं?

देश भर में लगातार पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से लोगों की चिंता बढ़ रही हैं। इस हफ्ते की शुरुआत में पेट्रोल में 31 पैसे और डीजल में 39 पैसे का इजाफा हुआ है। राजधानी दिल्ली में सोमवार को पेट्रोल की कीमत 79 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 71.15 रुपये प्रति लीटर हो गई है।

पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों से राजनीति में भी उथल-पुथल मच गई है। इस मामले कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने बीजेपी पर तंज कसते हुए लिखा देश में पेट्रोल 85 रूपए  बिक रहा है और सब चुपचाप बर्दाश्त कर रहे हैं।

गिरावट के साथ रुपया पहुंचा सबसे निचले स्तर पर, लोग बोले- मुबारक हो मुल्क और डॉलर दोनों 71 के हो गए

पटवारी ने मीडिया पर निशाना साधते हुए कहा कि, यूपीए सरकार की सत्ता के दौरान, पूरे दिन टीवी पर “मंहगाई डायन खाय जात है” दिखने वाले अब ‘क्या नेत्रहीन हो गये हैं’, ‘क्या कर्णहीन हो गये हैं’ या फिर ‘आत्माहीन हो गये हैं क्या’।

 

कांग्रेस राज में पेट्रोल के बढ़े दाम को अर्थव्यवस्था का ‘विनाश’ बताने वाले बाबा मोदीराज में इसे ‘विकास’ मानते हैं क्या

कांग्रेस नेता ने यह भी सवाल उठाए की ‘इस बढती मंहगाई के खिलाफ कबतक आवाज़ नहीं उठाओगे।

बता दें कि दिल्ली ही नहीं, देश के अन्य राज्यों में भी पेट्रोल-डीजल की कीमत में यही इजाफा हुआ है। 31 पैसे की बढ़ोतरी के साथ कोलकाता में 82.06, मुंबई में 86.56 और चेन्नई में 82.24 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल मिल रहा है।

 

कोलकाता में डीजल के दाम में 30 पैसे का इजाफा के साथ 74 रुपये प्रति लीटर हो गया है, चेन्नई में 75.19 रूपए और मुंबई में 75.54 रूपए डीजल की कीमत में 42 पैसे के इजाफा हुआ है।

 

Courtesy: BOLTAUP

Categories: India, Politics

Related Articles