कांग्रेस का मोदी सरकार से सवाल, हाई प्रोफाइल धोखाधड़ी मामलों से जुड़ी राजन की चिट्ठी पर कार्रवाई क्यों नहीं?

कांग्रेस का मोदी सरकार से सवाल, हाई प्रोफाइल धोखाधड़ी मामलों से जुड़ी राजन की चिट्ठी पर कार्रवाई क्यों नहीं?

कांग्रेस का मोदी सरकार से सवाल, हाई प्रोफाइल धोखाधड़ी मामलों से जुड़ी राजन की चिट्ठी पर कार्रवाई क्यों नहीं?

हाई प्रोफाइल धोखाधड़ी मामलों से जुड़ी राजन की चिट्ठी पर मोदी सरकार ने नहीं की कार्रवाई

पूर्व आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन मे संसदीय पैनल को भेजी अपनी रिपोर्ट में कहा था कि उन्होंने धोखाधड़ी से जुड़े हाई प्रोफाइल मामलों की एक सूची प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजी थी, लेकिन उन्हें पता नहीं है कि उस पर कोई कार्रवाई हुई भी या नहीं।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रेस को संबोधित करते हुए रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन की उस चिट्ठी का जिक्र किया जो उन्होंने गवर्नर रहते हुए प्रधानमंत्री मोदी को लिखी थी। इस चिट्ठी में राजन ने कुछ बड़े लोगों के खिलाफ पीएम से कार्रवाई करने की अपील की थी। कांग्रेस का दावा है कि राजन ने मोदी को जो लिस्ट सौंपी थी उसमें मेहुल चौकसी और नीरव मोदी का भी नाम था।

पूर्व आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन मे संसदीय पैनल को भेजी अपनी रिपोर्ट में कहा था कि उन्होंने धोखाधड़ी से जुड़े हाई प्रोफाइल मामलों की एक सूची प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजी थी, लेकिन उन्हें पता नहीं है कि उस पर कोई कार्रवाई हुई भी या नहीं।

कांग्रेस ने इसके साथ एनपीए के सवाल पर भी मोदी सरकार पर पलटवार किया है। कांग्रेस ने कहा कि जब 2014 में यूपीए सत्ता से बाहर हुई, उस समय 2 लाख 83 हजार करोड़ रुपए के एनपीए थे। पिछले 52 महीनों में एनपीए बढ़कर 12 लाख करोड़ रुपए के हो गए हैं।

कांग्रेन ने सरकार से पूछा कि आखिर इसका जिम्मेदार कौन है?

Courtesy: Navjivan
Categories: India, Politics

Related Articles