VIDEO: BJP सांसद के पैर धोकर पार्टी कार्यकर्ता ने पीया गंदा पानी, ट्रोल होने के बाद दी सफाई

VIDEO: BJP सांसद के पैर धोकर पार्टी कार्यकर्ता ने पीया गंदा पानी, ट्रोल होने के बाद दी सफाई

झारखंड के गोड्डा से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद निशिकांत दुबे का एक वीडियो और कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहीं है। वायरल हो रहें इस वीडियो को लेकर निशिकांत दुबे यूजर्स के निशाने पर आ गए और जमकर ट्रोल हो रहें है।

वीडियो में सार्वजनिक स्थल पर पार्टी का एक कार्यकर्ता उनका पैर धोकर पानी पीता हुआ दिखाई दे रहा है। हैरत की हद पार करने वाली बात ये है कि इस दौरान सांसद निशिकांत दुबे ने कार्यकर्ता को ना तो ऐसा करने से रोका, बल्कि उस तस्वीर को अपने फेसबुक पेज पर शेयर कर दी।

बता दें कि बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे रविवार(16 सितंबर) को कनभारा पुल के शिलान्यास समारोह में शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ता पंकज शाह ने कहा कि सांसद ने पुल का तोहफा देकर जनता पर बहुत उपकार किया है। इस नाते कसम के मुताबिक उनके चरण धोकर पीने का मन कर रहा है और फिर कार्यकर्ता ने थाली और पानी मंगाकर सांसद का पैर धोना शुरू कर दिया।

इस दौरान सांसद निशिकांत दुबे ने भी बिना किसी एतराज के पैर धोने के लिए आगे बढ़ा दिया। हैरत की हद पार करने वाली बात ये है कि इस दौरान सांसद निशिकांत दुबे ने कार्यकर्ता को ना तो ऐसा करने से रोका, बल्कि उस तस्वीर को अपने फेसबुक पेज पर शेयर कर दी।

इस फोटो को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, “आज मैंने अपने आप को बहुत छोटा कायकर्ता समझ रहा हूं, भाजपा के महान कार्यकर्ता पवन साह जी ने पुल की ख़ुशी में हज़ारों के सामने पैर धोया व उसको अपने वादे पुल की ख़ुशी में शामिल किया, काश यह मौक़ा मुझे माता पिता के बाद एक दिन मिले मैं भी कार्यकर्ता का चरणामृत पियूं। जय भाजपा जय भारत”

इस तस्वीर को लेकर बीजेपी सांसद ट्रोल होने लगे, सोशल मीडिया पर उनकी जमकर आलोचना हो रही है। विवाद पैदा होने पर निशिकांत दुबे ने सफाई भी दी है।

 

बीजेपी सांसद पर निशाना साधते हुए तेजस्वी यादव ने ट्विटर पर लिखा, ‘ये जातिवाद की पराकाष्ठा है। RSS प्रमुख इसलिए कह रहे थे 800 साल बाद हमारा राज आया है ताकि एक पिछड़ा व्यक्ति वर्णव्यवस्था में सबसे ऊपर क़ाबिज समाज के व्यक्ति और सांसद के पैर धोकर उसका मैला पानी पी सकें। पिछड़ो-दलितों से मैले पैर चटवाकर अब घोर जातिवादी भाजपाई MP उनका विकास करेंगे।’

वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘लोकतंत्र के लिए शर्मनाक दिन। बीजेपी के झारखंड गोड्डा से सांसद निशिकांत दुबे ने एक तस्वीर अपने फ़ेसबुक वाल पर शेयर की है, जिसमें एक ओबीसी पवन साह ने पब्लिक में उनका पैर धोकर सारा गंदा पानी पी लिया तो उसे रोकने की जगह दुबे ने उसकी फोटो तारीफ करते हुए लगा दी।

कार्यकर्ता से पैर धुलवाने की तस्वीर पर विवाद मचने पर बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने फेसबुक पर सफाई देते हुए लिखा, “अपनो में श्रेष्ठता बांटी नही जाती और कार्यकर्ता यदि खुशी का इजहार पैर धोकर कर रहा है तो क्या गजब हुआ?उन्होंने जनता के सामने क़सम खाया था,उनको ठेस ना पहुंचे सम्मान किये। पैर धोना तो झारखंड मेंअतिथि के लिए होता ही है, सारे कार्यक्रम में आदिवासी महिलाएँ क्या यह नहीं करती हैं?इसे राजनितिक रंग क्यूं घस रहे हैःपैर अतिथि का धोना गलत है,अपने पुरखो से पुछीये ,महाभारत में कृष्ण जी ने क्या पैर नहीं धोया था? लानत है घटिया मानसिकता पर”

Categories: India

Related Articles