राफेल घोटालाः मोदी सरकार पर हमलावर हुए औवेसी, कहा ‘जिसने विमान का पहिया तक नहीं बनाया उसे कैसे….’

राफेल घोटालाः मोदी सरकार पर हमलावर हुए औवेसी, कहा ‘जिसने विमान का पहिया तक नहीं बनाया उसे कैसे….’

नई दिल्ली – राफेल सौदे पर सनसनीखेज खुलासा हुआ है. फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने कहा है कि राफेल सौदे में अनिल अंबानी को दसाल्ट ने नहीं चुना था,  और उनके पास कोई विकल्प ही नहीं था, हमने वही पार्टनर चुना जो हमें दिया गया. यह खुलासा फ्रांस की न्यूज वेबसाइट मीडियापार्ट ने किया है. इस खुलासे के बाद पीएम मोदी पर चौतरफा हमले हो रहे हैं, एक तरफ जहां आम आदमी पार्टी ने प्रधानमंत्री से इस्तीफे की मांग की है वहीं दूसरी तरफ ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुसेलमीन के नेता औवेसी ने भी इस डील पर सवाल उठाए हैं।

औवेसी ने एक प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि रक्षा मंत्री और मोदी सरकार को बताना चाहिये कि झूठ कौन बोल रहा है, क्या फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद झूठ बोल रहे हैं या फिर मोदी सरकार ने देश से झूठ बोला है। औवेसी ने रिलायंस को राफेल बनाने की जिम्मेदारी देने पर भी सवाल उठाए हैं उन्होंने कहा कि जिसने कभी अपनी जिंदगी में प्लेन का एक पहिया तक नहीं बनाया हो उसे यह काम कैसे दे दिया गया।

औवेसी ने कहा कि दो लोगों की डील है उसमें एक कुछ कह रहा है दूसरा कुछ और बता रहा है, जाहिर इन दोनों में से एक तो झूठ बोल रहा है, रक्षा मंत्री को तुरंत बयान जारी करना चाहिये और बताना चाहिये कि झूठ कौन बोल रहा है। औवेसी ने कहा कि सरकार को जनता को बताना पड़ेगा कि झूठ कौन बोल रहा है और सच कौन बोल रहा है।

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलेमीन के सांसद ने तंज करते हुए कहा कि राफेल डील पर अगर मोदी देश को सच नहीं बताते हैं तो फिर भ्रष्टाचार मिटाने के नारे का क्या होगा, उस जुमले का क्या होगा जिसमें कहा गया था कि न खाऊंगा न खाने दुंगा, औवेसी ने कहा कि जिस कंपनी ने कभी विमान का पहिया तक नहीं बनाया उसे राफेल बनाने की जिम्मेदारी कैसे दे दी गई।

Courtesy: nationalspeak

Categories: India

Related Articles