चिराग पासवान बोले- बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने का ये सही वक्त!

चिराग पासवान बोले- बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने का ये सही वक्त!

चिराग पासवान बोले- बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने का ये सही वक्त!

लोजपा सांसद चिराग पासवान ने बिहार के गया में हुए व्यवसायी के बेटे की हत्या की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है. सोमवार को उन्होंने कहा, ‘बिहार में लगातार जिस तरह से हत्या और अपहरण की वारदातें हो रही हैं, उससे राज्य में लॉ एंड ऑर्डर बिगड़ गया है. इसलिए यहां राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए.

लोजपा सांसद चिराग पासवान ने बिहार के गया में हुए व्यवसायी के बेटे की हत्या की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है. सोमवार को उन्होंने कहा, ‘बिहार में लगातार जिस तरह से हत्या और अपहरण की वारदातें हो रही हैं, उससे राज्य में लॉ एंड ऑर्डर बिगड़ गया है. इसलिए यहां राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए.

 

गृह मंत्री को बताएंगे बिहार का हाल
पटना में अपने पिता रामविलास पासवान के साथ मीडिया से बातचीत में चिराग ने कहा कि राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को लेकर वह गृह मंत्री से मुलाकात कर उन्हें विस्तार में बिहार में घटी घटनाओं से वाकिफ कराएंगे. उन्होंने कहा कि यह बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने का उचित समय है. जरूरत पड़ने पर लोजपा का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मिलेगा और उनसे भी इस मांग को दोहराया जाएगा.

रामविलास ने भी नीतीश पर साधा निशाना
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 2019 के लोकसभा चुनाव के पहले गैर बीजेपी दलों को एकजुट करने और बिहार में पूर्णशराबबंदी लागू किए पर तंज कसते हुए रामविलास ने कहा कि वे पहले बिहार को संभालें. बिहार में लगातार हत्याएं हो रही हैं, यह प्रदेश जल रहा है पर नीतीश कुमार ‘हवा’ में उड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि आदित्य की हत्या ने यह साबित कर दिया है कि बिहार में सत्ताधारी विधायक और पाषर्द सत्ता के नशे में चूर हैं और उनके लिए प्रदेश की जनता की जान की कोई कीमत नहीं है. पासवान 14 मई को गया जाकर मृतक युवक आदित्य के परिजनों से मुलाकात करेंगे.

केरल में नीतीश को नहीं मिलेगी एक भी सीट
केरल में चुनाव के मद्देनजर जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार के दौरे पर भी रामविलास ने कटाक्ष किए. उन्होंने कहा कि नीतीश वहां एक भी सीट नहीं जीत पाएंगे और उनके सभी उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो जाएगी. उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के पहले नीतीश लोगों को पुरानी जनता पार्टी के विलय का सब्जबाग दिखाते रहे, उसका नतीजा क्या हुआ सब जानते हैं.

 

 

Courtesy: AajTak

Categories: Politics

Related Articles