मोदी नहीं पूर्व PM राजीव गांधी ने देश को डिजिटल इंडिया बनाया घर घर फोन, TV, कम्प्यूटर पहुँचाया!

मोदी नहीं पूर्व PM राजीव गांधी ने देश को डिजिटल इंडिया बनाया घर घर फोन, TV, कम्प्यूटर पहुँचाया!

मध्यप्रदेश विधानसभा में आचार संहिता लागू होने के बाद इसके उल्लंघन का मामला भी सामने आ गया है। एमपी के दमोह में आदर्श आचार संहिता के नियमों की अवहेलना होने पर पहली कार्रवाई की गई है। दमोह के प्रशासनिक अमले ने प्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया पर आचार संहिता तोड़ने की वजह से कार्रवाई की है।

प्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया की फोटो और नाम से छपे थैलों में महिलाओं को कई सामग्री बांटी गई जो आचार संहिता के नियमों का उल्लंघन है। मंत्री जी का नाम और तस्वीर सैकड़ों थैलों में छाप कर महिलाओं को सामग्री बांटने की जानकारी जैसे ही प्रशासन को मिली, फौरन कार्वाई करते हुए सामग्री को जब्त कर लिया गया।

प्रशासन को इस बारे में जानकारी मिली की राज्य ग्रामीण आजीवका मिशन सामुदायिक प्रशिक्षण केंद्र से बड़े पैमाने पर महिलाओं के लिए उपहार भेजे जा रहे हैं। बड़ी मात्रा में थैलों पर मंत्री जयंत मलैया का नाम और फोटो छाप कर कई तरह की सामग्री वाहनों में भर कर भेजा जा रहा था।

राज्य ग्रामीण आजीवका मिशन सामुदायिक प्रशिक्षण केंद्र में स्वसहायता समूह की महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाता है। इन्ही महिलाओं को प्रभावित करने के लिए उन्हे और उनके जरिए बाकी औरतों को उपहार देने की तैयारी थी जो आचार संहिता का घोर उल्लंघन है।  मलैया की फोटो छपे थैलाें में उपहार स्वरूप साबुन, अगरबती और निरमा का पैकेट रखा गया था।

आचार संंहिता का उल्लंघन करने पर राजनैतिक पार्टी के नितिन मिश्रा द्वारा एसडीएम रविंद्र चौकसे को आवेदन दिया गया जिसके बाद रिपोर्ट दर्ज की गई।शिकायत में कहा गया है कि आजीविका मिशन के अधिकारी शैलेंद्र श्रीवास्तव व अन्य अधिकारियों जयंत मलैया की फोटो लगे थैलों में उपहार सामग्री गांवों में वितरण के लिए गाड़ी नंबर एमपी 34 टी 0761 में भेजी गई ।
Courtesy: .amarujala
Categories: India

Related Articles