मोदी नहीं पूर्व PM राजीव गांधी ने देश को डिजिटल इंडिया बनाया घर घर फोन, TV, कम्प्यूटर पहुँचाया!

मोदी नहीं पूर्व PM राजीव गांधी ने देश को डिजिटल इंडिया बनाया घर घर फोन, TV, कम्प्यूटर पहुँचाया!

आज हमलोग जब मर्जी चाहे मोबाईल से, कम्प्यूटर से अपने मर्जी के अनुसार हर चीज कर सकते है। यानि यूँ कहें तो जिस डिजिटल इंडिया को हम देख रहे हैं यूवाओं के हाथों में फोन, टीवी, रेडियों, कम्प्यूटर और आज के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिस डिजिटल इंडिया का ढिंढोरा पीट पीट कर अपना श्रेय लेते है। क्‍या आपको पता है, इस डिजिटल कल्‍पना किसने की थी? किसने इसका शुरुआत किया? देश की जनता को शायद मोदी के झूठ और शौर शराबे के बीच याद ना हो लेकिन आपको बता दूँ, उस युवा ने डिजिटल इंडिया की शुरुआत किया जो कभी राजनीति में आना भी नहीं चाहता था। राजनीति से दूर दूर तक उसे कोई दिलचस्पी नहीं था। उस शख्स का नाम श्री राजीव गाँधी जी है।
अगर विश्व के सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री की लिस्‍ट निकाली जाए तो, यह राजीव गाँधी ज एकमात्र ऐसा युवा थें जो महज 40 साल से भी कम उम्र में दुनिया के सबसे विशाल लोकतांत्रिक देश के प्रधानमंत्री बन गऐ।

देश के सबसे कद्दावर, ताकतवर और लोकप्रिय गाँधी परिवार में राजीव गाँधी जी ने जन्म लिया लेकिन उनका सपना सियासत में भविष्य को चमकाने का नहीं था, बल्‍कि आसमान में उड़ते हवाई जहाजों को उड़ाने का सपना पाला था, लेकिन राजीव गाँधी जी के किस्मत नें जबरदस्ती उन्हें राजनीति में ले आया, और जब वो राजनीति में उतरे तो उन्होनें पूरे भारत के उस नक्‍शे की नींव रखी, जिससे आज पूरा भारत ‘डिजिटल इंडिया’ के सपने को साकार होता देख रहा है। हर हाथों में मोबाईल फोन, कम्प्यूटर हैं।

जब भी इस देश में आईटी का इतिहास लिखा जाएगा, उस इतिहास में स्वर्ण अक्षरों से देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का नाम लिखा जाएगा। समय का चक्र चला दुर्भाग्‍य से बहुत ही कम उम्र में देश के युवा दूरदृष्टि दूरगामी सोच रखने वाले राजीव गाँधी जी की मौत हो गई। आज दुनिया में भारत आईटी का सबसे बड़ा केन्द्र बना है और डिजिटल हो रहा है उसमें राजीव गांधी का महत्‍वपूर्ण योगदान और देन है। जिसे इतिहास कभी नकार नहीं सकता ना देश भूला सकता है। भलें ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को झूठ बोलकर कितना भी गूमराह करके डिजिटल इंडिया का सपना दिखा दें अपना श्रेय लें लें लेकिन राजीव गाँधी जी के इस महत्वपूर्ण योगदान देश के हर यूवा जब भी हाथों में मोबाईल फोन, कम्प्यूटर चलाता है राजीव जी के सपने को पूरा करता है।

Courtesy: newsexpress

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*