अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल हुआ सस्ता, फिर भी देश में बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल हुआ सस्ता, फिर भी देश में बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम

देश की जनता पर तेल की कीमतों की मार जारी है। शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल के दाम फिर बढ़े हैं। कच्चे तेल में पिछले सत्र की गिरावट के बाद रिकवरी आई है। बावजूद इसके देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी हुई है।

पेट्रोल और डीजल के दाम में शुक्रवार को बढ़ोतरी जारी रही। दिल्ली में पेट्रोल का दाम 12 पैसे बढ़कर 82.48 रुपये प्रति लीटर हो गया। वहीं, डीजल का दाम लगातार छठे दिन की वृद्धि के साथ 74.90 रुपये प्रति लीटर हो गया। वहीं, कोलकाता में भी पेट्रोल का दाम 12 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी के साथ 84.31 रुपये प्रति लीटर हो गया है, जबकि डीजल 76.75 रुपये प्रति लीटर बिकने लगा है।

मुंबई में भी शुक्रवार को पेट्रोल के दाम में 12 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई और देश की आर्थिक राजधानी में पेट्रोल 87.94 रुपये प्रति लीटर हो गया। वहीं, डीजल 78.51 रुपये प्रति लीटर हो गया। चेन्नई में पेट्रोल 85.73 रुपये प्रति लीटर बिकने लगा। वहां भी पेट्रोल के दाम में 12 पैसे प्रति लीटर का इजाफा हुआ। चेन्नई में डीजल 79.20 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

शुक्रवार को कच्चे तेल में पिछले सत्र की गिरावट के बाद रिकवरी आई है। बावजूद इसके देश में पेट्रोल डीजल के दाम में बढ़ोतरी हुई है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल सस्ता हो रहा है, लेकिन भारत में पेट्रोल और डीजल महंगा हो रहा है। खबरों के मुताबिक, 8 दिनों में एक बैरल कच्चे तेल की कीमत करीब 5 डॉलर घटी है, लेकिन भारत में पेट्रोल-डीजल सस्ता होने की बजाय तेल के दाम करीब 2 रुपये बढ़ गए।

ब्रेंट क्रूड का दिसंबर सौदा इंटरकॉन्टिनेंटल एक्सचेंज पर 0.51 फीसदी की बढ़त के साथ 80.77 डॉलर प्रति बैरल पर बना हुआ था, जबकि पिछले सत्र में 79.80 पर आ गया था। नायमैक्स पर डब्ल्यूटीआई 0.52 फीसदी की बढ़त के साथ 71.34 डॉलर प्रति बैरल पर बना हुआ था।

भारतीय वायदा बाजार में भी शुरुआती कारोबार में कच्चे तेल का अक्टूबर वायदा 20 रुपये की तेजी के साथ 5,275 रुपये प्रति बैरल पर बना हुआ था। पिछले सत्र में कच्चा तेल वायदा करीब तीन फीसदी लुढ़का था।

Categories: Finance

Related Articles