सपा में अटकलें- 2019 में बनारस में नरेंद्र मोदी से लड़ेंगे शत्रुघ्न सिन्हा?

सपा में अटकलें- 2019 में बनारस में नरेंद्र मोदी से लड़ेंगे शत्रुघ्न सिन्हा?

भाजपा के बागी नेता शत्रुघ्न सिन्हा और यशवंत सिन्हा लगातार केन्द्र की मोदी सरकार की आलोचना कर रहे हैं और सरकार के कामकाज को लेकर उस पर निशाना साध रहे हैं। हाल ही में शत्रुघ्न सिन्हा और यशवंत सिन्हा समाजवादी पार्टी के एक कार्यक्रम में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ दिखाई दिए। इस कार्यक्रम में भी शत्रुघ्न सिन्हा ने मोदी सरकार को निशाने पर लिया। अब ऐसी खबरें आ रही हैं कि समाजवादी पार्टी शत्रुघ्न सिन्हा को वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपने टिकट पर चुनाव लड़ा सकती है। दरअसल शत्रुघ्न सिन्हा की वाराणसी में भी अच्छी खासी लोकप्रियता है। साथ ही जातीय समीकरणों को देखा जाए तो शत्रुघ्न सिन्हा कायस्थ हैं और वाराणसी में कायस्थों का काफी प्रभावी वोटबैंक मौजूद है।

बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा और यशवंत सिन्हा ने गुरुवार को जयप्रकाश नारायण की जयंती के उपलक्ष्य में लखनऊ में सपा कार्यालय में आयोजित हुए एक कार्यक्रम में शिरकत की। इस दौरान सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी मौजूद थे। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, इस कार्यक्रम के बाद ही समाजवादी पार्टी में ऐसी अटकलें हैं कि शत्रुघ्न सिन्हा को वाराणसी से बतौर पार्टी उम्मीदवार उतारने की चर्चा शुरु हुई है। हालांकि समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने के लिए शत्रुघ्न सिन्हा को भाजपा की सदस्यता से इस्तीफा देना होगा। सूत्रों के अनुसार, हाल ही में जिस तरह से गुजरात में उत्तर भारतीयों के साथ मारपीट की खबरें आयी थीं और बड़ी संख्या में लोगों ने गुजरात से पलायन किया था। अब समाजवादी पार्टी इस मुद्दे को भी भाजपा के खिलाफ भुनाना चाहती है। दरअसल गुजरात में भाजपा की सरकार है, पीएम मोदी वहां सीएम रह चुके हैं। वहीं शत्रुघ्न सिन्हा का ताल्लुक बिहार से है और वह बिहार के पटना से सांसद भी हैं। ऐसे में सपा की कोशिश होगी कि गुजरात में उत्तर भारतीयों के खिलाफ हमलों को भी चुनावी मुद्दा बनाया जाए और पीएम मोदी को घेरा जाए।

उल्लेखनीय है कि कुछ समय पहले ऐसी खबरें भी आयीं थी कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शत्रुघ्न सिन्हा को दिल्ली की किसी सीट से चुनाव मैदान में उतार सकते हैं। दिल्ली में भी बिहारी मतदाताओं की अच्छी खासी तादाद है और ऐसे में शत्रुघ्न सिन्हा मजबूत उम्मीदवार साबित हो सकते हैं। बहरहाल अभी तक यह तय नहीं है कि शत्रुघ्न सिन्हा किस पार्टी का दामन थामेंगे और किस सीट से चुनाव मैदान में उतरेंगे।

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*