Ind vs WI: टीम इंडिया के भविष्य के लिए सबसे अहम होगी ये वनडे सीरीज़, जानिए क्यों हैै ऐसा?

Ind vs WI: टीम इंडिया के भविष्य के लिए सबसे अहम होगी ये वनडे सीरीज़, जानिए क्यों हैै ऐसा?

नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच वनडे सीरीज़ का आगाज़ 21 अक्टूबर (रविवार) से होगा। पहला मैच गुवाहाटी में खेला जाएगा। इस सीरीज़ के लिए बीसीसीआइ ने अभी सिर्फ दो वनडे मैचों के लिए टीम इंडिया का चयन किया है, लेकिन आपको बता दें कि वेस्टइंडीज़ के खिलाफ ये वनडे सीरीज़ भारतीय क्रिकेट के भविष्य के लिए काफी अहम है। आप कहेंगे कैसे क्योंकि ये सीरीज़ तो वेस्टइंडीज़ जैसी कमज़ोर टीम के खिलाफ है, तो फिर ऐसा कैसे हो सकता है? ऐसा है और इसका जवाब है कि ये सीरीज़ वेस्टइंडीज़ की वजह से नहीं बल्कि भारतीय खिलाड़ियों की वजह अहम है।

पांच मैचों की इस वनडे सीरीज़ के लिए फिलहाल टीम इंडिया का चयन पहले दो वनडे मैचों के लिए किया गया है। पहले दो मैच के लिए टीम में कप्तान विराट कोहली के साथ उप-कप्तान रोहित शर्मा और शिखर धवन को भी चुना गया है, लेकिन आप कहेंगे की इसमें खास क्या है, ऐसा तो पहले भी कई बार हुआ है जब इन तीनों को एक साथ किसी टीम के लिए चुना गया है। जी हां, ऐसा पहले भी हुआ है, लेकिन अब हालात अलग हैं। आपको याद होगा कि जब टीम इंडिया इंग्लैंड के दौरे पर थी तब खबरें आईं थी कि रोहित शर्मा और विराट कोहली ने सोशल मीडिया पर एक दूसरे को अनफोलो कर दिया है। इसके पीछे की वजह इस बात को बताया जा रहा था कि इंग्लैंड में पहले तीन टेस्ट मैच में भारतीय बल्लेबाज़ों के खराब प्रदर्शन के बाद भी रोहित शर्मा का आखिरी दो टेस्ट के लिए टीम में चयन नहीं हुआ था, जबकि आखिरी दो टेस्ट मैच के लिए पृथ्वी शॉ जैसे नए नवेले खिलाड़ी का चयन किया गया था। तभी से ये कोल्ड वॉर चलता आ रहा है।

रोहित और विराट के बीच तो मनमुटाव चल ही रहा है। इसके साथ ही साथ दैनिक जागरण ने ही आपको सबसे पहले बताया था कि इंग्लैंड दौरे पर विराट की पत्नी अनुष्का शर्मा और धवन की पत्नी आयशा मुखर्जी के बीच तल्ख बहस हुई। इसके बाद ही टीम के भीतर चर्चा शुरू हो गई थी कि जल्द ही शिखर टीम इंडिया से बाहर होंगे। इसके बाद हुआ भी ऐसा ही एशिया कप के मैन ऑफ द सीरीज शिखर धवन को वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज से बाहर कर दिया गया। धवन ने एशिया कप में पांच वनडे में दो शतक के साथ 342 रन बनाए थे। हालांकि अनुष्का शर्मा और आयशा मुखर्जी की बहस के बावजूद भी विराट और धवन ने एक दूसरे को सोशल मीडिया पर फोलो करना जारी रखा है।

इंग्लैंड दौरे में खेली गई वनडे सीरीज़ के बाद ऐसा पहली बार होगा जब रोहित शर्मा, विराट कोहली और शिखर धवन एक साथ टीम इंडिया के लिए खेलेंगे। अब देखना दिलचस्प होगा कि ये खिलाड़ी आपसी मनमुटाव को पीछे छोड़कर एक परिपक्व व्यक्ति/ खिलाड़ी की तरह मैदान पर एक दूसरे का सहयोग करेंगे या फिर ये कोल्ड वॉर टीम इंडिया के खिलाड़ियों पर हावी रहेगा। अगर ये शीत युद्ध टीम इंडिया में जारी रहा तो इसका असर अगले साल इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप पर भी पड़ सकता है। कोहली, रोहित और शिखर ये तीनों ही खिलाड़ी भारतीय टीम के स्तंभ हैं। तो वेस्टइंडीज़ के खिलाफ होने वाली ये सीरीज़ इस तरह तय करेगी टीम इंडिया है भविष्य।

भारतीय क्रिकेट में इससे पहले भी ऐसा हुआ है जब कप्तान और उप कप्तान भी बीच मनमुटाव की खबरें आईं हों। ज़्यादा पुरानी बात नहीं है ऐसा टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में हुआ था। 2009 में टीम इंडिया इंग्लैंड के दौरे पर थी और तब उप कप्तान थे वीरेंद्र सहवाग। मीडिया में खबरें आईं कि धौनी और सहवाग के मनमुटाव की वजह से टीम इंडिया में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। मीडिया की खबरों को गलत साबित करने के लिए धौनी ट्रेंट ब्रिज में खेले जाने वाले मैच से पहले प्रेस कॉंफ्रेंस करने के लिए पूरी टीम को ही साथ ले आए थे

Courtesy: jagran.

Categories: Sports

Related Articles