सुप्रीम कोर्ट को धमकाकर शाह ने संविधान पर हमला किया है, हम इनको देश पर हावी नहीं होने देंगे

सुप्रीम कोर्ट को धमकाकर शाह ने संविधान पर हमला किया है, हम इनको देश पर हावी नहीं होने देंगे

सबरीमाला मंदिर विवाद पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बयान पर केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष का सबरीमाला मामले पर बयान संविधान और कानून के खिलाफ़ है।

उन्होंने कहा कि सबरीमाला मंदिर को लेकर अमित शाह ने कन्नूर की रैली में जो बयान दिया है, उससे उनके एजेंडे का मकसद साफ हो गया है। उनके एजेंडे में मौलिक अधिकारों की गारंटी नहीं हैं। उनका बयान आरएसएस और संघ परिवार के एजेंडे को दर्शाता है।

सीएम विजयन ने अमित शाह पर केरल सरकार को गिराने की धमकी देने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘हमारी सरकार को गिराने की धमकी देने वाले अमित शाह को याद रखना चाहिए कि यह सरकार बीजेपी की दया पर सत्ता में नहीं आई है। यह सरकार जनादेश हासिल करके सत्ता में आई है। अमित शाह का मैसेज जनादेश को नुकसान पहुंचाने वाला है।’

इससे पहले अमित शाह ने केरल के कन्नूर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि बीजेपी अयप्पा भक्तों के साथ चट्टान की तरह खड़ी है। उन्होंने विजयन सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, लेफ्ट की सरकार ताकत के दम पर प्रदर्शनकारियों को चुप कराना चाहती है।

अमित शाह ने कहा कि जो लोग अदालत के फैसले के नाम पर हिंसा को भड़काना चाहते हैं, उनको बताना चाहता हूं कि यहां पर कई ऐसे मंदिर हैं, जिनके अपने अलग-अलग नियम कानून हैं।

इस दौरान अमित शाह ने केरल के मुख्यमंत्री को सबरीमाला मंदिर के श्रद्धालुओं और प्रदर्शनकारियों के खिलाफ़ कार्रवाई करने को लेकर चेतावनी भी दी थी।

अमित शाह ने कहा था, ‘मैं केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन को चेतावनी देने आया हूं कि अगर आपने दमन का कुचक्र बंद नहीं किया किया, तो बीजेपी का कार्यकर्ता आपके सरकार की ईंट से ईंट बजा देगा। आपकी सरकार ज्यादा दिन नहीं चल सकेगी।’

Categories: India

Related Articles