भाजपा नेताओं पर लगा सरकारी पैसे से अपने बच्चों की शादी कराने का आरोप

भाजपा नेताओं पर लगा सरकारी पैसे से अपने बच्चों की शादी कराने का आरोप

उत्तर प्रदेश में कई भाजपाई नेताओ पर सरकारी पैसो का इस्तेमाल अपने बच्चो की शादी कराने के लिए किया गया। इस पुरे मामले पर भाजपा नेता रामनिवास मौर्या से सवाल पूछे गए तो उन्होंने कहा की वह गरीब है और इसी वजह से उन्होंने अपनी बेटी की शादी मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में करायी है।

आपको बता दे की यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस योजना को एक नया रूप दिया था। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत राज्य सरकार अपने खर्च पर सामूहिक विवाह का आयोजन करवाती है। इसके अंतर्गत सामूहिक विवाह के आयोजन में सांसद, विधायक व समाज के अन्य प्रतिष्ठित लोग भाग लेते है।

इस योजना में अनसूचित जाति जनजाति के 30 प्रतिशत लोग अन्य पिछड़ा वर्ग के 35 प्रतिशत लोग, सामान्य वर्ग के 20 प्रतिशत और अल्पसंख्यक वर्ग की 15 प्रतिशत भागीदारी इस तरह के आयोजनों में होने की बात कही गयी थी। इस योजना के तहत शादी करने वालों को 20 हजार रूपए और एक स्मार्ट फोन उपहार स्वरूप दिया जाएगा ऐसा योगी सरकार के द्वारा दावा किया गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस योजना को उन्ही के मंत्रियो ने विवादों में खड़ा कर दिया है। इस बार बरेली में हुए मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत भाजपा नेताओं द्वारा अपने बच्चों की शादी कराने का मामला सामने आया है। जब बीजेपी के विधायक अपने आप को गरीब बता इस योजना के अंतर्गत अपने ही बच्चो की शादी करवाने लगे। जब इस पर कई लोगों ने आपत्ति जतायी है तो प्रशासन ने इस मामले की जांच शुरु कर दी है।

भाजपा के मंडल अध्यक्ष रामनिवास मौर्या और भाजपा नेत्री बेबी द्वारा सामूहिक विवाह कार्यक्रम में अपनी बेटियों की शादी करायी गई है। आरोप है की इस योजना के तहत मिलने वाले लाभ के लिए भाजपा मंत्रियो ने अपने बेटी की शादी सामूहिक विवाह कार्यक्रम से करवाई। एबीपी न्यूज की एक खबर के अनुसार, सामूहिक विवाह कार्यक्रम से 3 दिन पहले ही भाजपा नेत्री बेबी ने अपनी बेटी की शादी बड़े ही धूमधाम से की है, जिसमें लाखों रुपए खर्च किए गए हैं।

नगर पालिका अध्यक्ष संजीव सक्सेना के साथ साथ नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देने के लिए सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह, आंवला एसडीएम और सीओ भी कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे। इस ;मामले पर जब आंवला नगर पालिका अध्यक्ष संजीव सक्सेना से पूछा गया तो उन्होंने कहा की सामूहिक विवाह में जो भी विवाह हुए हैं, वो सही हुए हैं और उनमें कोई गड़बड़ी नहीं हुई है।

 

Courtesy: .nationaldastak

Categories: Politics

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*