सरदार किसानों की खुशहाली चाहते थे मगर मोदी किसानों की बर्बादी, BJP का ‘सरदार प्रेम’ दिखावा है

सरदार किसानों की खुशहाली चाहते थे मगर मोदी किसानों की बर्बादी, BJP का ‘सरदार प्रेम’ दिखावा है

भारत दुनिया को सबसे बड़ी मूर्ति देने का नया कीर्तिमान रचने वाला है। ऐसा कीर्तिमान जिसकी तुलना दुनिया में शायद कोई अब स्थापित करे। वो है सरदार वल्लभभाई पटेल के स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी’ बनवाना।

गुजरात के नर्मदा के किनारे पर बनी सरदार पटेल की मूर्ति का गुणगान आने वाले कुछ दिनों में देखने और सुनने को मिल सकता है।

दरअसल सत्ता में आते ही सरदार पटेल के लिए सहानभूति जताने के लिए मोदी सरकार ने पटेल की मूर्ति बनाने का फैसला किया। करीब 3 हज़ार करोड़ से ज्यादा के खर्च में बनी ये मूर्ति चार सालों में बनकर तैयार है।

वहीं दूसरी तरफ गुजरात मेट्रो जिसे जनता की सुविधा के लिए बनाया जाना था वो साल 2004 से अटकी पड़ी है।

इस मौके पर पाटीदार नेता हार्दिक पटेल किसानों के लिए सत्याग्रह करने जा रहें है। हार्दिक ने इसकी जानकारी सोशल मीडिया पर देते हुए लिखा कि हजारों किसानों की आवाज़ के लिए हम जूनागढ़ इकट्टा होंगें जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा भी शामिल होंगें।

बता दें कि कंस्ट्रक्शन कंपनी लार्सन एंड टर्बो द्वारा बनाई गई स्टैच्यू ऑफ यूनिटी परियोजना को दिसंबर 2014 में शुरू किया गया था जिसे 42 महीनों को अंदर पूरा किया जाना था।

लेकिन इसकी डिजाइन के काम के कारण इसके निर्माण की अवधि को और चार महीने के लिए बढ़ा दिया गया था। अब सरदार पटेल की मूर्ति बनकर तैयार है जिसे खुद पीएम मोदी लोकार्पण करेंगें।

Categories: India

Related Articles