सरयू किनारे लगेगी राम की मूर्ति ! क्या ऊँचाईयों से योगी का अत्याचारी रामराज्य देख सकेंगे भगवान ?

सरयू किनारे लगेगी राम की मूर्ति ! क्या ऊँचाईयों से योगी का अत्याचारी रामराज्य देख सकेंगे भगवान ?

त्रिपुरा चुनाव जीतने के बाद बीजेपी समर्थकों ने लेनिन की मूर्ति गिरा दी थी। जिसके बाद बीजेपी की जमकर आलोचना हुई मगर अब बीजेपी ने ही मूर्ति लगानी शुरू कर दी है। वोट बैंक की सियासत तले गुजरात में सरदार पटेल के नाम पर दुनिया की सबसे ऊची मूर्ति लगवा दी। अब अयोध्या में योगी सरकार भगवान राम के की 173 मीटर ऊंची मूर्ति लगवाने की तैयारी में है।

मगर क्या सवाल ये है कि क्या भगवान राम मूर्ति लगाने से यूपी अपराध मुक्त हो जायेगा?

जिस आस्था के नाम पर हर रोज सुप्रीम कोर्ट से लेकर सविंधान को ललकारा और फटकारा जा रहा है क्या वही सरकारें अपने प्रदेश की महिलाओं को सुरक्षा देने में सफल हो पाई हैं ?

 

पूरे देश ने पिछले कुछ महीने पहले उन्नाव के दबंग बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की गुंडई देखी, जिसमें उनपर जब गैंगरेप का आरोप लगा तो योगी सरकार ने चुप्पी साध ली और कई दिनों तक उनकी गिरफ़्तारी होने से बचाती रही।

अब एक बार फिर उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की ही तरह एक और महिला सीएम योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास के बाहर आत्मदाह करने की कोशिश की है, पीड़िता का आरोप है कि भाजपा नेताओं ने उसकी भाई हत्या की और बहन के साथ गैंगरेप किया।

पीड़िता का आरोप है कि बीजेपी के दबंग नेता ने उसके भाई की हत्या कर दी है और पुलिस उसकी कोई शिकायत नहीं दर्ज कर रही है। पीड़िता ने कहा कि जब हम थाने पहुंचे तो पुलिस ने भगा दिया। बाद में छोटी बहन को बीजेपी नेताओं ने किडनैप किया, गैंगरेप किया और फिर उसकी हत्या कर दी।

पीड़िता ने जिन बीजेपी नेताओं के नाम बताए है उनमें गजानन सिंह, भानु प्रताप सिंह, सतेंद्र सिंह, गृह मंत्री के करीबी रिश्तेदार अरबी सिंह जैसा नाम भी शामिल हैं।

 

Categories: Politics

Related Articles