मेरे घर के बजाए मुज़फ़्फ़रपुर बालिका गृह में CCTV कैमरे लगवाए होते तो सैंकड़ों बच्चियों का रेप नहीं होताः तेजस्वी यादव

मेरे घर के बजाए मुज़फ़्फ़रपुर बालिका गृह में CCTV कैमरे लगवाए होते तो सैंकड़ों बच्चियों का रेप नहीं होताः तेजस्वी यादव

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जासूसी करने का आरोप लगाया है। तेजस्वी का आरोप है कि नीतीश, उनके आधिकारिक आवास की दीवार पर सीसीटीवी कैमरा लगवाकर निगरानी रख रहे हैं।

घर में सीसीटीवी कैमरा लगाए जाने से नाराज़ तेजस्वी ने ट्विटर के ज़रिए सीएम नीतीश पर हमला बोला है।

उन्होंने लिखा, “नीतीश जी, हमारे घर के अंदर तक CCTV कैमरे लगाने की बजाय मुज़फ़्फ़रपुर बालिका गृह और पटना आसरा गृह में लगाए होते तो आज सैंकड़ों बच्चियों का आपके संरक्षण में जनबलात्कार नहीं होता।

आपराधिक और अपने भ्रष्ट मंत्रियों के घर लगाए होते तो हर तीसरे दिन सुप्रीम कोर्ट से डाँट नहीं सुननी पड़ती”।

बता दें कि तेजस्वी का बंगला पटना में सीएम नीतीश कुमार के बंगले के ठीक पीछे पड़ता है। तेजस्वी यादव ने इससे पहले नीतीश पर जासूसी का आरोप लगाते हुए कहा था, “सीएम नीतीश कुमार का बंगला तीन तरफ से रोड से घिरा है,

जबकि चौथी तरफ मेरे निवास से। उन्होंने बाकी सभी जगहों को छोड़कर केवल नेता विपक्ष के बंगले की तरफ ही कैमरा लगवाया है”।

उन्होंने लिखा, “सीएम खुद जेड प्लस सिक्यॉरिटी में रहते हैं, लेकिन उन्हें कैमरा मेरे घर की दीवार के पास ही लगवाना है। कोई उन्हें बता दे कि यह सभी तरीके व्यर्थ ही साबित होंगे”।

तेजस्वी ने एक और ट्वीट कहा, “नीतीश जी, आपकी पुलिस और आपको अपनी सुरक्षा का पूरा अधिकार है, लेकिन हमारे बेडरूम, आवास के अंदर मुख्य भवन के द्वार, रसोई, आवासीय कार्यालय और आवासीय निजता में 360 डिग्री के HD कैमरा लगाकर तांक-झांक करने का अधिकार नहीं है। आप हमारे घर के बाहर मेन गेट पर कैमरा लगवाइए हमें कोई दिक्कत नहीं है”।

Courtesy: boltahindustan.

Categories: India

Related Articles