“राफेल का रेट और राम मंदिर की डेट कभी नहीं पूछनी चाहिए, ये आतंकवाद व देशद्रोह के श्रेणी में आता है”

“राफेल का रेट और राम मंदिर की डेट कभी नहीं पूछनी चाहिए, ये आतंकवाद व देशद्रोह के श्रेणी में आता है”

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के निलंबित सांसद और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने एक बार फिर से मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला है। कीर्ति आजाद ने मंगलवार को केन्द्र सरकार पर तंज करते हुए कहा कि रॉफेल का रेट और राम मंदिर की डेट कभी नहीं पूछनी चाहिए? ये आतंकवाद व देशद्रोह के श्रेणी में आता है।

दरअसल, बीजेपी से निलंबित बिहार के दरभंगा से सांसद कीर्ति आजाद ने मंगलवार (19 नवंबर) को ट्वीट करते हुए लिखा, “महिला की उम्र, पुरुष का वेतन, रॉफेल का रेट और राम मंदिर की डेट, कभी नहीं पूछनी चाहिए? ये आतंकवाद व देशद्रोह के श्रेणी में आता है…”

बता दें कि लोकसभा चुनाव के पहले उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण और राफेल विवाद को लेकर सियासत गरमाया हुआ है। विपक्ष लगातार राफेल मुद्दे पर मोदी सरकार पर निशाना साध रहा है।

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के पहले राम मंदिर निर्माण को लेकर सियासत एक बार फिर तेज हो गई है। जहां आरएसएस के सा‍थ साधु-संतों ने भी जल्‍द राम मंदिर निर्माण का आह्वान किया है तो वहीं विश्व हिंदू परिषद 25 नवंबर को अयोध्या में संत सम्मेलन शुरू करने की योजना बना रही है।

गौरतलब है कि बीजेपी से निलंबित सांसद कीर्ति आजाद के बारे में ये कयास लगाए जा रहे हैं कि वे 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का ‘हाथ’ थाम सकते हैं।

Courtesy: jantakareporter

Categories: India

Related Articles