‘जांच अधिकारी अमित शाह को हत्यारोपी बता रहे हैं और मीडिया गजनी का आमिर खान बन गया है’

‘जांच अधिकारी अमित शाह को हत्यारोपी बता रहे हैं और मीडिया गजनी का आमिर खान बन गया है’

सोहराबुद्दीन और तुलसी प्रजापति एनकाउंटर मामले में अब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की मुश्किलें बढ़ती नज़र आ रही हैं। इन मामलों के पूर्व मुख्य जांच अधिकारी अमिताभ ठाकुर के बाद अब इस केस से जुड़े एक और जांच अधिकारी संदीप तामगड़े ने अदालत में अमित शाह पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

तामगड़े ने अमित शाह के साथ ही डीजी वंजारा, राजकुमार पांडियन और दिनेश एमएन जैसे आईपीएस अधिकारियों पर भी आरोप लगाए हैं। उन्होंने सोहराबुद्दीन शेख और तुलसी प्रजापति के एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए कहा कि ये राजनेता और अपराधियों की साठगांठ का नतीजा था।

तामगड़े ने बुधवार को अदालत में अपनी जांच के हवाले से बताया कि बीजेपी नेता अमित शाह के साथ ही डीजी वंजारा, राजकुमार पांडियन और दिनेश एमएन जैसे आईपीएस अधिकारी पूरे हत्याकांड के मुख्य साजिशकर्ता थे।

उन्होंने बताया कि जांच में मिले सबूतों के आधार पर ही इन सभी के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया था। कोर्ट में सुनवाई के दौरान यह बात भी सामने आई कि इस केस से जुड़े दस्तावेज़ भी ग़ायब हैं।

बता दें कि सोहराबुद्दीन शेख की 26 नवंबर, 2005 को फेक एनकाउंटर में हत्या की गई थी। वहीं, 28 दिसंबर, 2006 को उनके साथी तुलसीराम प्रजापति की गुजरात में एक फर्जी एनकाउंटर में हत्या कर दी गई थी। नगालैंड कैडर के पुलिस अधिकारी संदीप तमगड़े ने अप्रैल 2012 से मुख्य जांच अधिकारी के रूप में इस मामले की जांच की थी।

तमगड़े ने कोर्ट को बताया कि नेताओं-अपराधियों का एक नेक्सस बना हुआ था। अमित शाह और राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने सोहराबुद्दीन शेख, तुलसीराम प्रजापति और आजम खान जैसे लोगों का इस्तेमाल कर साल 2004 में नामी बिल्डरों के यहां हमला कराया था।

इस मामले में कुल 38 व्‍यक्तियों को आरोपी बनाया गया था। 2014 से 2017 के बीच ट्रायल कोर्ट ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और सभी वरिष्‍ठ आईपीएस अधिकारियों समेत 16 को बरी कर दिया था। फिलहाल जो 22 आरोपी हैं, उनमें पुलिस इंस्‍पेक्‍टर, असिस्‍टेंट इंस्‍पेक्‍टर, सब-इंस्‍पेक्‍टर, सिपाही एक अन्य व्‍यक्ति शामिल है।

अभी कुछ दिन पहले ही तत्कालीन सीबीआई एसपी अमिताभ ठाकुर ने भी अपनी गवाही में अमित शाह और दूसरे बड़े पुलिस अधिकारियों को मामले में राजनीतिक और आर्थिक फायदा होने की बात कही थी।

जांच अधिकारियों द्वारा किए गए इन सनसनीख़ेज़ ख़ुलासों के बाद भी मेनस्ट्रीम मीडिया में इस मामले की कोई खास कवरेज देखने को नहीं मिल रही। मीडिया की इसी खामोशी पर आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।

उन्होंने ट्विटर के ज़रिए कहा, “गवाह पर गवाह अमित शाह बंजारा सहित कई लोगों को सोहराबुदीन हत्याकांड आरोपी बता रहे हैं लेकिन ऐसा लगता है कुछ हुआ ही नही मीडिया के वीर बहादुर ख़ामोश हैं, मीडिया गजनी का आमिर खान बन गया है”।

Categories: India