खुलासा / भाजपा जिलाध्यक्ष ने रची थी जेल ब्रेक कर नक्सली को निकालने की साजिश

खुलासा / भाजपा जिलाध्यक्ष ने रची थी जेल ब्रेक कर नक्सली को निकालने की साजिश

चाईबासा. मंडल कारा में बंद नक्सली संदीप सोरेन उर्फ मोतीलाल सोरेन इस दुर्गापूजा में चाईबासा जेल ब्रेक कर फरार होने की फिराक में था। इस काम में उसकी मदद गुवा के मजदूर नेता और भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष रमाशंकर पांडेय और जेल में तैनात 3 सुरक्षाकर्मी विजय खलखो, चामू मुंडा व जुएल होरो कर रहे थे।

लेकिन जिला पुलिस ने 15 दिनों की जांच में यह खुलासा कर इन सभी की साजिश पर पानी फेर दिया। इन चारों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तारी से पहले जेल में सर्च अभियान चलाया गया। आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि जेल ब्रेक के लिए 25 लाख के इनामी नक्सली संदीप ने रमाशंकर पांडेय ने 10 लाख रु. में सौदा तय किया था।

इस राशि में तीनों सुरक्षाकर्मियों का भी हिस्सा था। जेल ब्रेक की भनक पुलिस को 15 दिन पहले ही लग गई थी। एसपी क्रांति कुमार ने बताया कि संदीप की गिरफ्तारी से उग्रवादी संगठन को काफी नुकसान पहुंचा है। लिहाजा उसे छुड़ाने के लिए उग्रवादी संगठन व सहयोगी किसी भी हद तक जा सकते हैं। लिहाजा इस मामले में कार्रवाई के लिए अपर पुलिस अधीक्षक (अभियान) के नेतृत्व में टीम गठित की गई। जांच शुरू कर दी गई।

रस्सी से दीवार फांदने व कोर्ट कैंपस में बमबारी करने की साजिश थी : एसपी ने बताया कि जेल से भागने के लिए रस्सी से दीवार फांदने की साजिश थी। वहीं, कोर्ट में पेशी के लिए जेल से आने-जाने के क्रम में रास्ते में या कोर्ट कैंपस में गोलीबारी व बमबारी भी करा सकते थे। उन्हें जानकारी थी कि भागने के लिए नक्सलियों के कुछ सहयोगी जेल के अंदर-बाहर और कोर्ट तक जाने वाले रास्ते की रेकी भी कर रहे हैं।

साथियों संग भागने वाला था संदीप : एसपी ने बताया कि गुप्त सूचना थी। इसी आधार पर कार्रवाई की। कुख्यात नक्सली संदीप अपने अन्य साथियों के साथ दुर्गापूजा में जेल ब्रेक कर भागने के फिराक में था। इसमें जयमसीह चरद, रामेश्वर कुंकल, मार्कंडेय सिंह कुंटिया, देव कुमार बिरूली, नल्ला भिक्षापति व राजेश टुडू उर्फ राजेश संथाली शामिल था।

भाजपा नेता रमाशंकर है संदीप का फाइनेंसर : एसपी ने बताया कि भाजपा नेता रमाशंकर पांडेय उर्फ रामा पांडेय गुवा थाना का रहने वाला है। वह नक्सली संदीप का फाइनेंसर भी हैं। उसने जेल सुरक्षाकर्मी विजय को जेल ब्रेक के लिए 4 लाख रु. भी दिए थे। विजय पहले हुए दोनों जेल ब्रेक में भी यहीं तैनात था। जेल में बंद उग्रवादियों से मिलकर सुरक्षाकर्मी विजय, चामु मुंडा व जुएल होरो ने यह साजिश रची थी। जेल में बंद नक्सली चोकरो चाकी भी संदीप का महत्वपूर्ण सहयोगी है।

गिरफ्तार चार लोगों में 3 खूंटी जिले के : गिरफ्तार किए गए भाजपा नेता रमाशंकर पांडेय उर्फ रामा पांडेय सागर गांव, बक्सर, जेल में तैनात सुरक्षाकर्मी विजय खलखो, हातुदामी, खूंटी, चामु मुंडा, तुनगांव बरटोली, खूंटी और जुएल होरो, करोटलो, खूंटी के निवासी हैं।

Courtesy: bhaskar

Categories: Crime

Write a Comment