योगी सरकार ने काशी में तोड़े मंदिर, संजय सिंह बोले- योगीराज में ‘बाबरशाही’ चल रही है और मोदी ‘मौन’ बने हैं

योगी सरकार ने काशी में तोड़े मंदिर, संजय सिंह बोले- योगीराज में ‘बाबरशाही’ चल रही है और मोदी ‘मौन’ बने हैं

पिछले दिनों समाचार चैनल आजतक के ‘एजेंडा’ कार्यक्रम में बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने एक बड़ा झूठ बोला था. उस झूठ की हकीकत सभी को पता है. लेकिन महेश शर्मा सच्चाई पर पर्दा डालने की कोशिश करते रहे.

इस चर्चा में ‘आप’ सांसद संजय सिंह ने बीजेपी पर हमला करते हुए बताया था कि, वाराणसी में बीजेपी सरकार ने विश्वनाथ कॉरिडोर के नाम पर 36 मंदिर तोड़ दिए हैं और अयोध्या में 176 मंदिर तोड़ने का नोटिस जारी किया है.

कार्यक्रम में आप सांसद ने अपने फ़ोन में टूटे हुए मंदिरों की फोटो भी दिखाई मगर उस समय महेश शर्मा मानने को तैयार नहीं हुए!

शुक्रवार को संजय सिंह ने सोशल मीडिया पर टूटे हुए मंदिरों के अवशेष के फोटो जारी करते हुए बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला करते हुए ट्वीट करते हुए लिखा है कि,

“बीजेपी वालों शर्म करो योगी राज में बाबरशाही चल रही है. काशी में बहुत से मंदिर तोड़े जा रहे हैं. शिवलिंग तोड़कर थाने में रखा है, ‘मोदी’ मौन मोदी बने हैं’ भोले बाबा का श्राप मत लो भाजपाइयों वर्ना पूरे देश से तुम्हारी सत्ता साफ़ हो जाएगी.”

एजेंडा कार्यक्रम में महेश शर्मा आप सांसद संजय सिंह के आरोप पर तिलमिला गए और कहने लगे, “मोदी सरकार किसी मंदिर को तोड़ना तो दूर, उसकी कल्पना भी नहीं कर सकती, संजय सिंह जो आरोप लगा रहे हैं उसके बारे में मुझे नहीं पता.”

बता दें कि सोशल मीडिया पर काशी में टूटे मंदिरों की फोटो भी वायरल हो चुकी है. संजय सिंह के सवाल से बचने के लिए महेश शर्मा वही रटी-रटाई बात बोलने लगे, “आप बाबर के वंशज हैं, बाबर के रिश्तेदार हैं, मंदिर तुड़वाने का काम बाबर ने किया था”.

यानि ये बात तो सच है कि काशी में मंदिर तोड़े गए हैं. फिर महेश शर्मा की बात के मुताबिक अगर बाबर की ‘प्रवत्ति’ वाले मंदिर तुड़वाते हैं तो फिर बीजेपी की योगी सरकार वाराणसी में मंदिर तुड़वाने का काम कर रही है. शर्मा के इस तर्क के हिसाब से बीजेपी के लोग बाबर हुए?

Courtesy: boltahindustan.

Categories: India

Related Articles