दरिंदे ‘बेटियों’ को जिंदा जला रहे हैं और योगी लाचार हैं, ये रामराज्य है या गुंडाराज है?

दरिंदे ‘बेटियों’ को जिंदा जला रहे हैं और योगी लाचार हैं, ये रामराज्य है या गुंडाराज है?

उत्तर प्रदेश में एक 10वीं की दलित छात्रा को जिंदा जला कर मौत के घाट उतार दिया गया। छात्रा की मौत के बाद इस घटना से दुखी छात्रा के भाई ने आत्महत्या कर ली।

लेकिन योगी सरकार और यूपी पुलिस द्वारा इस मामले को लेकर नरमी बरतने के आरोपों के बीच अब पूरे देश में दलित समुदाय के लोगों में गुस्सा बड़ता जा रहा है।
सोशल मीडिया पर लगातार इस घटना के खिलाफ राज्य की योगी सरकार को निशाना बनाया जा रहा है। कांग्रेस नेता राज बब्बर ने भी उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया है कि दिल दहला देने वाली इस वारदात की कल्पना मात्र से सिहर उठा।

उस बिटिया पर क्या बीती होगी। आगरा के मलपुरा की ये घटना फिर साबित करती है कि यूपी में बेखौफ़ घूम रहे अपराधियों के सामने बीजेपी सरकार कितनी लाचार है। बहन-बेटियों की रक्षा तक नहीं कर पा रही।

वहीं भीम आर्मी के संस्थापक और अध्यक्ष चंद्र शेखर ने भी आगरा की इस दलित छात्रा को इंसाफ दिलाने के लिए यूपी की योगी सरकार के खिलाफ बड़ा आंदोलन करने की धमकी दी है।

भीम आर्मी चीफ ने ट्वीट कर लिखा है कि संजलि की हत्या पर मेनस्ट्रीम मीडिया सभी पोलटिकल पार्टियां चुप्पी साधे बैठी है क्योंकि मरने वाली दलित समाज से थी लेकिन मैं चेतावनी देता हूँ कि हमे कमजोर न समझा जाये 2 अप्रैल का ट्रेलर आप देख चुके है हमारी मांग है इस केस की सीबीआई जांच हो और मुआवजा दिया जाए।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की ओर से अभी तक इस घटना को लेकर अभी तक कोई बड़ा बयान नहीं आया है।

इस मामले में पुलिस की तरफ से भी कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की गई है। इस दर्दनाक घटना को अंजाम देने वाले दोषी अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बहार हैं और देश में खुले-आम घुम रहें हैं।

Courtesy: /boltahindustan

Categories: India

Related Articles