रथयात्रा को लेकर हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीमकोर्ट पहुंची बीजेपी

रथयात्रा को लेकर हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीमकोर्ट पहुंची बीजेपी

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में प्रस्तावित रथयात्राओं पर कोलकाता हाईकोर्ट के ब्रेक के बाद अब बीजेपी इस मुद्दे को लेकर सुप्रीमकोर्ट पहुंची है। इससे पहले कलकत्ता हाईकोर्ट की दो जजों की पीठ ने बीजेपी की इस यात्रा पर रोक लगा दी थी। बीजेपी हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीमकोर्ट में चुनौती देगी।

सुप्रीमकोर्ट में अभी क्रिसमस और नए साल की छुट्टियां होने के कारण अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि बीजेपी की अर्जी पर सुनवाई कब होगी। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में जड़ें जमाने की कोशिश कर रही बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में रथ यात्रा निकालने का कार्यक्रम तय किया था।

बीजेपी की रथयात्रा को पश्चिम बंगाल सरकार ने कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए अनुमति देने से इंकार कर दिया था। इसके बाद बीजेपी ने इस मामले में पश्चिम बंगाल सरकार को चुनौती देते हुए कलकत्ता हाई कोर्ट की सिंगल बेंच के सामने उठाया था।

कोलकाता हाईकोर्ट की सिंगल बैंच ने पहले भारतीय जनता पार्टी को ट्रैफिक नियमों का पालन व कुछ अन्य शर्तों के साथ रथ यात्रा निकालने की इजाजत दे दी थी लेकिन राज्य सरकार ने सीगल बेंच के फैसले को डबल बेंच में चुनौती दी थी।

इस पर सुनवाई करते हुए कोलकाता हाईकोर्ट ने सिंगल बेंच के फैसले को रद्द करते हुए बीजेपी की रथयात्रा निकालने की अनुमति रद्द कर दी थी। अब बीजेपी इस मामले को लेकर सुप्रीमकोर्ट पहुंची है।

बता दें कि भारतीय जनता पार्टी को पश्चिम बंगाल में कुल 3 रथयात्राएं निकालनी थीं. इनमें पहली 7 दिसंबर को कूचबिहार से, दूसरी 9 दिसंबर को 24 परगना से और तीसरी 14 दिसंबर को बीरभूमि से शुरू होनी थी लेकिन पहले पश्चिम बंगाल सरकार की मनाही और फिर हाई कोर्ट की रोक के कारण यात्रा निकल ही नहीं पाई थी। इस यात्रा में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह को भी शामिल होना था।

2019 के चुनावो की तैयारियों के तहत बीजेपी इन रथयात्राओं को बेहद अहम मानकर चल रही है। यही कारण है कि वह हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीमकोर्ट पहुंची है।

Courtesy: lokbharat

Categories: India

Related Articles