नमाज़ पर प्रतिबंध लगाए जाने पर BJP पर भड़की अलका, बोलीं- योगीराज में ‘दंगें’ कर सकते हो लेकिन ‘नमाज़’ नहीं पढ़ सकते

नमाज़ पर प्रतिबंध लगाए जाने पर BJP पर भड़की अलका, बोलीं- योगीराज में ‘दंगें’ कर सकते हो लेकिन ‘नमाज़’ नहीं पढ़ सकते

इसी साल जुलाई महीने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने सैमसंग की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री का उद्घाटन नोएडा में किया।

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स की ये फैक्ट्री नोएडा सेक्टर 81 में है। मगर किसे पता था कि कुछ ही महीनों बाद मेक इन इंडिया की पहचान बनने वाला नॉएडा नमाज पर प्रतिबंध लगाने के कारण सुर्ख़ियों में आ जायेगा।

दरअसल दिल्ली से सटे नोएडा में सैमसंग दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री लगाई गई है। कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के मामले में दुनिया के मैप पर सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री होने का टैग चीन या दक्षिण कोरिया के पास नहीं है और अमेरिका के पास भी नहीं है, बल्कि अब उत्तर प्रदेश के शहर नोएडा को यह उपलब्धि हासिल होने जा रही है।

मगर इसी नॉएडा के सेक्टर 58 पुलिस ने इंडस्ट्रियल एरिया में आने वाले नोएडा अथॉरिटी के पार्क में खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगा दी है।
नोटिस जारी कर कहा गया कि अगर नोएडा सेक्टर-58 स्थित इंडस्ट्रियल हब स्थित कार्यालयों के कर्मचारी नियमों का उल्लंघन करते पाए तो इसके लिए संस्थान को ही जिम्मेदार माना जाएगा और उसी के अनुसार आगे कदम उठाया जाएगा।

नॉएडा में सिर्फ सैमसंग ही कई विदेशी कंपनियों का दफ्तर है। ऐसे में जब उन दफ्तरों में पुलिस का ये नोटिस गया होगा तो मेक इन इंडिया और स्टैंड अप इंडिया के सभी दावों की पोल खुल चुकी है।

इस मामले पर आप विधायक अलका लांबा ने सोशल मीडिया पर बीजेपी पर तंज करते हुए लिखा,

नमाज़ पढ़ने की इजाज़त लेनी होगी, दंगे तो यू भी हो सकते हैं। हमें दंगों से नही, किसी के शांति से नमाज़ पढ़ने से ख़तरा है- बीजेपी

Categories: Politics

Related Articles