नमाज़ पर हंगामा करने वाली UP पुलिस तब कहां रहती है जब गली-मोहल्लों के पार्कों में ‘जागरण’ होता है : नेहा बाथम

नमाज़ पर हंगामा करने वाली UP पुलिस तब कहां रहती है जब गली-मोहल्लों के पार्कों में ‘जागरण’ होता है : नेहा बाथम

देश में डर का माहौल बिलकुल भी नहीं है बल्कि इसके उल्ट योगी सरकार ज़रूर डरी हुई है। तभी तो यूपी पुलिस ने नॉएडा में जो फरमान निकाला है उसपर अब सवाल उठने लगे है की आखिर सिर्फ एक धर्म को निशाना क्यों बनाया जा रहा है।

पुलिस ने सीधे सीधे आदेश जारी करते हुए कह दिया है कि अगर कोई पार्क में नमाज पढ़ता हुआ देखा गया
दरअसल नॉएडा के सेक्टर-58 थाने ने 23 कंपनियों को नोटिस जारी करके कहा था कि अगर कंपनी का कोई मुस्लिम कर्मचारी पार्क में नमाज़ पढ़ने नहीं जाएगा और अगर ऐसा हुआ तो ये समझा जाएगा कि कंपनी ने अपने कर्मचारी को पुलिस के नोटिस से अवगत नहीं कराया है। फिर जवाबदेही उक्त कंपनी की होगी।

वहीं विवाद बढ़ता देख नॉएडा के ज़िलाधिकारी ने कहा है कि, अगर कोई व्यक्ति पार्क में नमाज़ पढ़ता है तो कंपनी या बिज़नेस हाउस ज़िम्मेदार नहीं होगा।
इस आदेश से यूपी पुलिस सवालों के घेरे में है। एंकर नेहा बाथम ने सोशल मीडिया पर लिखा,

सार्वजनिक जगह पर नमाज़ शांतिपूर्ण तरीके से पढ़े जाने पर इतना हंगामा क्यों? ये हंगामा तब क्यों नहीं होता जब गली मोहल्लों के पार्कों में जागरण होता है और देर रात तक शोर होता है वो भी बिना सरकारी इजाज़त के।

Courtesy:bolthahindustan

Categories: Politics

Related Articles