अलीगढ़: योगी की पुलिस पर जिंदा गायों को दफनाने के आरोप के बाद भड़के लोग, सीएम के खिलाफ लगाए नारे

अलीगढ़: योगी की पुलिस पर जिंदा गायों को दफनाने के आरोप के बाद भड़के लोग, सीएम के खिलाफ लगाए नारे

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जिंदा गायों को दफन करने को लेकर गुरुवार को जमकर बवाल हुआ। इलाके में एक दर्जन गायों को जिंदा दफनाने की खबर लगते ही सैकड़ों लोगों ने योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

 

योगी सरकार में गायों के मुद्दे को लेकर पिछले कई दिनों से अलग-अलग जगहों पर बवाल मचा हुआ है। ताजा मामला अलीगढ़ का है। जहां जिंदा गायों को दफन करने की जानकारी मिलने के बाद जमकर हंगामा हुआ। खबरों के मुताबिक, इगलास इलाके में जिंदा गौवंश दफनाए जाने की सूचना मिलने के बाद सैकड़ों लोग सड़क पर उतर आए। लोगों ने योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अलीगढ़-मथुरा रोड पर जाम लगा दिया। इस घटना को लेकर इलाके में तनाव का माहौल है।

बताया जा रहा है कि इगलास थाना क्षेत्र के पास नहर किनारे बुधवार रात कई गायों को मृत समझकर दफनाया गया था। सुबह आसपास खेतों में जब काम करने के लिए किसान पहुंचे तो लोगों ने गायों को गड्ढे से निकलने की कोशिश करते हुए देखा गया। यह देख सैकड़ो किसान मौके पर आ गए। लोगों ने गायों को निकालना शुरू किया तो एक गाय जिंदा निकलीं। इससे ग्रामीणों का गुस्सा बढ़ गया।

एक किसान के मुताबिक, “बुधवार रात में कुछ पुलिस वाले वहां मौजूद थे और एक ट्रक भी था। पुलिस की मौजूदगी में गायों को गड्ढे में दफन किया गया है।”

मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ केवी वार्ष्णेय ने कहा कि कुल 12 गायों का पोस्टमॉर्टम किया गया। उन गायों की मौत दम घुटने के कारण हुई थी। हालांकि उन्होंने साफ किया कि यह स्थिति तेज ठंड के कारण भी हो सकती है।

वहीं अलीगढ़ के डीएम सीबी सिंह ने जिंदा गायों को दफन करने के बात से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि वहां सिर्फ मरी हुई गायें ही दफन की गई थीं। जिन गायों का इलाज अस्पताल में चल रहा है वे खुदाई वाली जगह के पास बैठी हुई मिली थीं।

बता दें कि इससे पहले बुधवार को सैकड़ों किसानों ने गोवंश से अपनी फसलें बचाने के लिए गायों को एक प्राइमरी स्कूल में बंद कर दिया था। इस घटना के एक दिन बाद गुरुवार को इगलास थाना क्षेत्र के टीकापुर गांव में गायों को जिंदा दफनाने को लेकर यह मामला सामने आया।

Courtesy: navjivanindia

Categories: Politics