जयपुर में राहुल गांधी ने खोली पीएम मोदी की पोल, कहा- 56 इंच का सीना रखते हैं, लेकिन राफेल पर चर्चा से भाग गए

जयपुर में राहुल गांधी ने खोली पीएम मोदी की पोल, कहा- 56 इंच का सीना रखते हैं, लेकिन राफेल पर चर्चा से भाग गए

राजस्थान के जयपुर में किसानों की एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने राफेल पर चर्चा के दौरान संसद से गायब रहने के लिए पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि 56 इंच का सीना रखते हैं, लेकिन राफेल पर चर्चा से भाग गए।

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पहली बार राज्य के किसानों के बीच पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जमकर पीएम मोदी पर हमला किया। उन्होंने राफेल पर पीएम मोदी को घेरते हुए कहा कि आधी रात को सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को उनके पद से हटाया गया था, लेकिन अब सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें दोबारा बहाल कर दिया है। उन्होंने कहा, “मोदी सरकार ने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि पूरा देश जानता है कि मोदी जी ने अपने दोस्त को राफेल सौदे के जरिए 30 हजार करोड़ रुपये दिए हैं। और आलोक वर्मा इस पूरे डील की जांच करने जा रहे थे, उससे पहले ही उन्हें मोदी सरकार ने हटा दिया।”

जयपुर में किसानों की रैली में उन्होंने कहा कि 56 इंच की छाती वाले पीएम मोदी राफेल डील पर लोकसभा में हुई चर्चा के दौरान एक मिनट के लिए भी सदन में आने की हिम्मत नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ढाई घंटे तक लोकसभा में राफेल पर बोलती रहीं, लेकिन हमने उनके हर झूठ का पर्दाफाश कर दिया और उन्होंने विपक्ष के सवालों का कोई जवाब नहीं दिया। उन्होने कहा, “रक्षा मंत्री बोलती रहीं, लेकिन 56 इंच सीने वाले पीएम मोदी ढाई मिनट के लिए भी लोकसभा में नहीं पहुंचे। पीएम मोदी राफेल सौदे से डरे हुए थे और यही वजह है कि वह लोकसभा में जवाब देने के बजाय पंजाब भाग गए।”

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने देश के युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था लेकिन नोटबंदी और जीएसटी दे दिया। इससे छोटे कारोबारियों और किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने बड़े कारोबारियों को पैसा दिया, लेकिन किसानों और छोटे कारोबारियों को बर्बाद कर दिया।

उन्होंने चुनाव में कांग्रेस का समर्थन करने के लिए राजस्थान की जनता को धन्यवाद देते हुए कहा कि यहां की जनता ने नरेंद्र मोदी को किसानों की ताकत का एहसास करा दिया है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता कांग्रेस की मालिक है और पार्टी यहां के लोगों के लिए काम करेगी। राज्य में कांग्रेस की जीत किसानों, युवाओं, महिलाओं की जीत है। उन्होंने कहा, “मुझे राजस्थान की जनता और कांग्रेस कार्यकर्ता की शिकायत सुनाई नहीं देनी चाहिए। मेरी पहली जिम्मेदारी राजस्थान की जनता और फिर कांग्रेस कार्यकर्ता हैं।”

उन्होंने किसानों की कर्जमाफी का जिक्र करते हुए कहा कि वादा करने के बाद भी जो काम मोदी सरकार साढ़े चार साल में नहीं कर पाई वह काम राजस्थान में कांग्रेस की सरकार ने आने के दो दिन में कर दिखाया। और ठीक ऐसा ही मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकारों ने भी किया।

Courtesy: .navjivanindia.

Categories: India

Related Articles