PNB घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी ने छोड़ी भारतीय नागरिकता, सरेंडर किया पासपोर्ट

PNB घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी ने छोड़ी भारतीय नागरिकता, सरेंडर किया पासपोर्ट

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले के प्रमुख आरोपी हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को भारत लाना अब और मुश्‍किल साबित हो सकता है. मेहुल चोकसी ने भारतीय नागरिकता छोड़ दी है. उसने अपना भारतीय पासपोर्ट एंटीगा हाईकमीशन में जमा कराया है.

भगोड़े मेहुल चोकसी ने अपना पासपोर्ट नंबर जेड 3396732 कैंसिल्ड बुक्स के साथ जमा कराया है. मेहुल चोकसी को भारतीय नागरिकता छोड़ने के लिए 177 अमेरिकी डॉलर का ड्राफ्ट जमा करना पड़ा है.

इस संबंध में विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव अमित नारंग ने गृह मंत्रालय को जानकारी दी है. मेहुल चोकसी ने भारतीय नागरिका छोड़ने के लिए जो फॉर्म भरा है, उसमें उसने अपना नया पता जौली हार्बर सेंटर मार्कस एंटीगा लिखा है.

चोकसी ने भारतीय उच्चायोग (इंडियन हाईकमिशन) से कहा कि उसने नियमों के तहत एंटीगा की नागरिकता लेते हुए भारत की नागरिकता छोड़ दी है. चोकसी ने वर्ष 2017 में एंटीगा की नागरिकता ली थी. मुंबई पुलिस की हरी झंडी के बाद चोकसी को यहां की नागरिकता मिली थी.

पीएनबी घोटाले के बाद हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी और उसका भांजा नीरव मोदी देश छोड़कर फरार हो गए थे. मामले की जांच कर रही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआई की टीम ने अब-तक उनकी लगभग पांच हजार करोड़ की चल-अचल संपत्ति को जब्‍त किया है. चोकसी और मोदी के खिलाफ आर्थिक भगोड़ा अधिनियम के तहत भी कार्रवाई की जा रही है.

Categories: International