लोकसभा चुनाव से पहले मुख्य निर्वाचन आयुक्त का बड़ा बयान, बोले- हम बैलट पेपर के युग में वापस नहीं जाने वाले

लोकसभा चुनाव से पहले मुख्य निर्वाचन आयुक्त का बड़ा बयान, बोले- हम बैलट पेपर के युग में वापस नहीं जाने वाले

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि हम चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट को ही जारी रखेंगे। हम किसी भी तरह की आलोचना और प्रतिक्रिया के लिए तैयार हैं, चाहे वह किसी राजनीतिक दल के द्वारा क्यों न की जा रही हो।

देश में बैलट पेपर से चुनाव कराने की मांग के बीच मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बड़ा बयान दिया है। दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम बैलट पेपर के युग में वापस नहीं जाने वाले हैं।

सुनील अरोड़ा ने कहा, “हम चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट को ही जारी रखेंगे। हम किसी भी तरह की आलोचना और प्रतिक्रिया के लिए तैयार हैं, चाहे वह किसी राजनीतिक दल के द्वारा क्यों न की जा रही हो। हम आलोचना के बावजूद ईवीएम और वीवीपैट को नहीं छोड़ेंगे और बैलेट पेपर के जमाने में नहीं जाएंगे।” चुनाव आयोग के इस बयान से साफ हो गया है कि आगामी लोकसभा चुनाव को बैलेट पेपर से कराने के लिए वह विचार नहीं करने जा रहा है।

सुनील अरोड़ा का यह बयान ऐसे समय में आया जब पूरे देश में बैलेट पेपर से चुनाव कराने को लेकर चर्चा हो रही है। समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस समेत कई पार्टियां बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग कर रही हैं।

कुछ दिन पहले ही लंदन में एक कार्यक्रम में ईवीएम को हैक करने का दावा किया गया था। इस दावे के बाद से ईवीएम की प्रामाणीकता पर फिर से सवाल किए जाने लगे हैं।

चुनाव में अक्सर ईवीएम मशीनों में गबड़ी देखने को मिलती रहती है। हाल ही में पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में भी ईवीएम में कई जगहों पर दिक्कतें सामने आई थीं, जिसके बाद कई राजनीतिक पार्टियों ने शिकायत की थी। लगातार राजनीतिक पार्टियां ईवीएम को खत्म कर बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग करते आ रही हैं।

Categories: India

Related Articles