BJP के बाद RSS नेता ने सुप्रीम कोर्ट को धमकाया, कहा- अयोध्या मामले को टालने वाले जजों के घर पर धावा बोल देना चाहिए

BJP के बाद RSS नेता ने सुप्रीम कोर्ट को धमकाया, कहा- अयोध्या मामले को टालने वाले जजों के घर पर धावा बोल देना चाहिए

अयोध्या मामले में अब बीजेपी और आरएसएस के नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट को धमकाना शुरु कर दिया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद अब RSS नेता इंद्रेश कुमार ने इस मामले की सुनवाई कर रहे जजों के घर धावा बोलने की धमकी दी है।

अलीगढ़ के डीएस कॉलेज में हुए ‘भारत की एकता व अखंडता के समक्ष चुनौतियां’ कार्यक्रम के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए इंद्रेश कुमार ने कहा कि साधु-संतों को राम मंदिर मामले की सुनवाई करने वाले जजों के घर हल्ला बोल देना चाहिए।

RSS नेता ने राम मंदिर निर्माण में बाधा के लिए सुप्रीम कोर्ट के जजों को भी ज़िम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि मामले को टालने की मुख्य जिम्मेदार कांग्रेस है, उनके बाद लेफ्ट, कट्टरपंथी ताकतें और जज भी जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि संतों को कांग्रेस, लेफ्ट, सुप्रीम कोर्ट के जजों के घर पर धावा बोल देना चाहिए।

इसके साथ ही इंद्रेश कुमार ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू, बॉलीवुड अभिनेता नसीरुद्दीन शाह और आमिर खान पर हमला बोलते हुए उन्हें देश का गद्दार कह दिया। उन्होंने नवजोत सिंह सिद्धू को जयचंद बताया तो नसीरुद्दीन शाह और आमिर खान की तुलना मीर जाफर से की।

इंद्रेश कुमार अयोध्या मामले पर केंद्र की मोदी सरकार से अपील करते हुए कहा कि सरकार इस मसले पर कानून बनाने के लिए संसद में बहस करे अन्यथा अध्यादेश लाकर जल्द मंदिर का निर्माण करवाए।

इससे पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुप्रीम कोर्ट से ज़्यादा ख़ुद को बेहतर बताते हुए कहा था कि अगर सुप्रीम इस मामले पर फैसला देने में असमर्थ है तो वह इस मामले को उन्हें सौंप दे। उन्होंने दावा किया कि अगर सुप्रीम कोर्ट ऐसा करता है तो वह मामले को 24 घंटे के अंदर सुलझा देंगे।

ग़ौरतलब है कि रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है। सुप्रीम कोर्ट में 29 जनवरी को मामले की सुनवाई होनी थी, लेकिन जस्टिस बोबडे के छुट्टी पर जाने के कारण मामले की सुनवाई टल गई। अभी ये भी तय नहीं हुआ है कि अगली सुनवाई कब होगी।

Courtesy: boltahindustan

Categories: India

Related Articles