VIDEO: आरएसएस-बीजेपी का विरोध, जिलाध्यक्ष को भीड़ ने दौड़ा दौड़ाकर पीटा!

VIDEO: आरएसएस-बीजेपी का विरोध, जिलाध्यक्ष को भीड़ ने  दौड़ा दौड़ाकर पीटा!

असम के तिनसुकिया जिले में बुधवार को सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रदर्शनकारियों की हिंसा के शिकार हो गए। पुलिस के मुताबिक, नागरिकता संशोधन बिल पर आरएसएस के सहयोगी संगठन की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में जाने के लिए निकले बीजेपी नेता से प्रदर्शनकारियों ने मारपीट की। दर्जनों प्रदर्शनकारियों ने लखेश्वर मोरन पर उस वक्त हमला कर दिया, जब वह लोक जागरण मंच की ओर से आयोजित मीटिंग में शामिल होने के लिए सभागार के बाहर पहुंचे। घटना का वीडियो फुटेज भी सामने आया है। इसमें हमलावर उन्हें सड़क पर दौड़ाते नजर आते हैं। प्रदर्शनकारियों के हाथ में टायर और काले झंडे हैं और वे बीजेपी नेता पर ‘आरएसएस से सांठगांठ’ करने का आरोप लगाते हुए चीखते नजर आते हैं।

तिनसुकिया के एसपी शिलादित्य चेतिया ने बताया, ‘हमने भारतीय जनता युवा मोर्चा की शिकायत पर केस दर्ज किया है। इस मामले में तीन एफआईआर दर्ज हुए हैं और तीन गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। इनमें से एक राणा गोहन है, जो कि ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (AASU) का सदस्य है। यही वो शख्स था जिसने मोरन पर टायर से हमला किया। हम यह पता करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसे संगठन में क्या पद मिला हुआ है। मोरन का दांत टूट गया है और दूसरी चोटें भी आई हैं।’ एसपी के मुताबिक, वारदात के बाद जिले में तनाव का माहौल है।

वहीं, बीजेपी के स्टेट प्रेसिडेंट रंजीत कुमार दास ने घटना की निंदा की और राज्य सरकार से मांग की कि दोषियों को तुरंत पकड़ा जाए। उन्होंने इस घटना को ‘गुंडागिरी’ करार दिया और चेतावनी देते हुए कि बीजेपी के 29 लाख कार्यकर्ताओं ने काफी ‘संयम’ बरता है। उन्होंने सभी पार्टियों से अपील की कि बीजेपी कार्यकर्ताओं को और ज्यादा न ‘भड़काया’ जाए। वहीं, AASU के जनरल सेक्रेटरी लुरिनज्योति गोगोई ने कहा, ‘हम हिंसा की ऐसी किसी घटना से जुड़े नहीं हैं।’

Courtesy: jansatta

Categories: India

Related Articles