ओडिशा: भवानीपटना की रैली में राहुल बोले- सीएम पटनायक और ‘चौकीदार’ के बीच रिमोट कंट्रोल का रिश्ता

ओडिशा: भवानीपटना की रैली में राहुल बोले- सीएम पटनायक और ‘चौकीदार’ के बीच रिमोट कंट्रोल का रिश्ता

ओडिशा के भवानीपटना में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हमने आपको मनरेगा दिया, नरेंद्र मोदी जी ने उसे खत्म किया, आदिवासी बिल दिया, उसे खत्म किय, सूचना का आधिकार दिया उसे भी खत्म उन्होंने खत्म करने का काम किया।

 

ओडिशा के भवानीपटना में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रैली को संबोधित किया। रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा मैं यहां पर एक नेता के तौर पर नहीं, बल्कि परिवार के सदस्य के रूप में आया हूं। उन्होंने कहा कि जब यूपीए की सरकार थी तो उसने ओडिशा के लिए बेहतर काम किया, ओडिशा के लोगों के हितों की रक्षा की।

राहुल गांधी ने कहा, “केंद्र की मोदी सरकार किसान और अदिवासी विरोधी है। किसानों के लिए 17 रुपये प्रतिदिन की राशि का ऐलान कर मोदी सरकार अपना पीठ थपथपा रही ही। मोदी जी उद्योगपति मित्रों को हजारों करोड़ बांट रहे हैं और किसानों को सिर्फ 17 रुपये दे रहे हैं।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने मंच से राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने कहा, “नवीन पटनायक जी और बीजेपी आपसे आपकी जमीन छीनना चाहते हैं। कांग्रेस पार्टी, भूपेश बघेल, निरंजन पटनायक जी, ये सभी आदिवासियों की जमीन की रक्षा करेंगे। आपका जो हक है, चाहे वो जीमन हो या फिर आपका जंगल उसे हम दिलाएंगे।”

राहुल गांधी ने कहा कि हमने आपको मनरेगा दिया, नरेंद्र मोदी जी ने उसे खत्म किया, आदिवासी बिल दिया, उसे खत्म किया, सूचना का आधिकार दिया उसे भी खत्म करने का काम किया।

राहुल गांधी ने रैली को सबोधित करते हुए राज्य के स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल खड़े किए। राहुल ने कहा, “मैं आपसे पूछना चाहता हूं। अंतर्राष्ट्रीय खबर बनती है। 10 मील तक मंझी को अपनी बीवी की लाश को कंधे पर ले जाना पड़ता है। सीएम ने एक शब्द बोला, उन्होंने आपसे माफी मांगी। क्या ओडिशा की सरकार गरीबों की मदद नहीं कर सकती, उन्हें एंबुलेंस नहीं मुहैया करा सकती?”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “आप किसी भी प्रदेश में चले जाइए आदिवासी युवक आपको रोजगार ढूंढते मिल जाएंगे। यहां आपको रोजगार नहीं मिल सकता है। यहां सिर्फ आपकी जमीन छीनी जा सकती है। आपको शिक्षा नहीं मिल सकता है। आपको अपने बच्चों को पढ़ाने के लिए लाखों रुपये देने पड़ते हैं। आपके बच्चे को भी यूनिवर्सिटी में जगह मिलनी चाहिए। आपके माता-पिता का अस्पताल में इलाज हो, हम ऐसा ओडिशा बनाना चाहते हैं।”

राहुल गांधी ने कहा, “मनरेगा से आपको फायदा हुआ। हमने मनरेगा से भी बड़ा फैसला ले लिया है। नरेंद्र मोदी जी ने कहा कि वो देश के किसानों को 17 रुपये देंगे, हमने कहा कि देश के हर व्यक्ति को, चाहे वो किसी भी राज्य में रहता हो। कांग्रेस पार्टी इसा बात का गारंटी देती है कि वह हिंदुस्तान के हर व्यक्ति को न्यूनतम आमदनी देगी। हमारी सरकार आई तो हम यह करके दिखाएंगे।”

राहुल गांधी ने कहा कि अगर नरेंद्र मोदी हजारों करोड़ रुपये 15 उद्योगपतियों का माफ कर सकते हैं तो कांग्रेस पार्टी देश के हर गरीब के खाते में न्यूनतम पैसा डालकर दिखाएगी। उन्होंने कहा कि मोदी जी में दम है कि तो वे हमें रोकर दिखाएं। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मजाक और झूठ का समय खत्म हो गया है, न्यूनतम आमदी का दौर शुरू होगा।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “हमने छत्तीसगढ़ में जो वादे किए थे उसे पूरा करके दिखाया। मैंने कहा था कि अदिवासियों की जो जमीन ली गई थी, उसे हम वापस करेंगे। जैसे ही सरकार बनी हमने वापस करके दिखा दिया। ओडिशा के किसानों का कर्ज भी माफ होगा।”

राहुल ने मंच से नारा लगाया। उन्होंने कहा कि ‘चौकीदार’ चोर है और नवीन पटनायक रिमोट कंट्रोल है। उन्होंने कहा कि ‘चौकीदार’ कहता है कि ओडिशा के किसानों का कर्ज माफ नहीं होगा, रिमोट कंट्रोल कहता है किसानों का कर्ज माफ नही होगा। अपने संबोधन के आखिर में राहुल गांधी ने किसानों और आदिवासियों से वादा किया कि अगर राज्य में कांग्रेस की सरकार आई तो वह उन्हें नौकरी देंगी, शिक्षा देगी और उनके हितों की रक्षा करेंगे।

 

Categories: India

Related Articles