मुंबई अटैक पर शोर मचाने वाली ‘मीडिया’ पुलवामा हमले पर खामोश थी, क्यों ? : दिलीप मंडल

मुंबई अटैक पर शोर मचाने वाली ‘मीडिया’ पुलवामा हमले पर खामोश थी, क्यों ? : दिलीप मंडल

पुलवामा अटैक के बाद के छह घंटों में प्रधानमंत्री क्या-क्या कर रहे थे?

इस रोज यानी 14 फरवरी की शाम को मोदी ने उत्तराखंड में जिम कॉर्बेट में एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म के लिए शूटिंग की. मोदी पर बन रही ये फिल्म चुनाव से पहले एक टीवी चैनल पर रिलीज होगी। मोदी ने वहां बोट राइडिंग की। मोबाइल फोन से रुद्रपुर में बीजेपी की चुनाव पूर्व रैली को संबोधित किया।

रैली से पहले हमले की खबर आ चुकी थी। मोदी ने भाषण दिया कि शहादत बर्बाद नहीं जाएगी। रैली में उन्होंने कांग्रेस पर जम कर हमला बोला। कहा कि कांग्रेस की कर्जमाफी की योजना धोखा है।

मोदी खिनालौली वीआईपी गेस्ट हाउस में रुके। चाय पी। गेस्ट हाउस की विजिटर बुक में लिखा कि पर्यावरण संरक्षण जरूरी है। कॉर्बेट में मोदी स्कॉर्पियो में बैठकर कॉर्बेट की सैर की। सांभर हिरण की तस्वीर खींची। बाघ नजर नहीं आए,

सवा छह बजे, हमले के लगभग तीन घंटे बाद कॉर्बेट से निकले। रास्ते में लोगों का हाथ हिलाकर अभियादन किया। रास्ते में रामनगर पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में रुके। पकोड़ा और ढोकला खाया। बाकी का ब्यौरा नैनीताल और हलद्वानी के पत्रकारों को देना चाहिए।

मुंबई अटैक वाले दिन पूरे दिन में तीन बार ड्रेस बदलने पर मीडिया ने इतना शोर मचाया था कि कांग्रेस ने तत्कालीन गृह मंत्री शिवराज पाटिल का इस्तीफा ले लिया था।

Categories: India

Related Articles