पुलवामा आतंकी हमले के बाद पीएम मोदी की शूटिंग पर बोले राहुल गांधी, शहीदों के घरों में दर्द का दरिया था और वे हंसते हुए दरिया में फोटोशूट पर थे

पुलवामा आतंकी हमले के बाद पीएम मोदी की शूटिंग पर बोले राहुल गांधी, शहीदों के घरों में दर्द का दरिया था और वे हंसते हुए दरिया में फोटोशूट पर थे

कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर गुरुवार (21 फरवरी) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला और आरोप लगाया कि जब देश इस जघन्य हमले के कारण सदमे में था तो उस वक्त मोदी कार्बेट पार्क में एक चैनल के लिए फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। पार्टी ने यह भी दावा किया था कि प्रधानमंत्री अपनी सत्ता बचाने के लिए जवानों की शहादत और ‘राजधर्म’ भूल गए। वहीं, इस मामले पर अब राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है।

राहुल गांधी ने शुक्रवार (22 फरवरी) को अपने ट्वीट में लिखा, “पुलवामा में 40 जवानों की शहादत की खबर के तीन घंटे बाद भी ‘प्राइम टाइम मिनिस्टर’ फिल्म शूटिंग करते रहे।” राहुल ने आगे लिखा, “देश के दिल व शहीदों के घरों में दर्द का दरिया उमड़ा था और वे हँसते हुए दरिया में फोटोशूट पर थे।” बता दें कि राहुल गांधी ने अपने इस ट्वीट के साथ #PhotoShootSarkar (फोटो वाली सरकार) हैशटैग का भी इस्तेमाल किया है।

बता दें कि कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने गुरुवार को कहा था कि, पुलवामा आतंकी हमले के प्रति मोदी सरकार न तो कोई राजनीतिक जवाब दे रही है और न ही अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रही है। उन्होंने दावा किया, ‘‘स्तब्ध करने वाली बात तो यह है कि शहादत के अपमान का जो उदाहरण नरेंद्र मोदी जी ने पुलवामा हमले के बाद पेश किया, ऐसा कोई उदाहरण पूरी दुनिया में नहीं। जब पूरा देश गत 14 फरवरी को पुलवामा में 3:10 बजे शाम को हुए आतंकी हमले से सदमे में था, तो उस समय नरेंद्र मोदी रामनगर, नैनीताल के कॉर्बेट नेशनल पार्क में फिल्म की शूटिंग कर रहे थे।’’

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘मोदी जी की यह फिल्म शूटिंग 6:30 बजे शाम तक चली। शाम को 6:45 पर मोदी जी ने सर्किट हाउस में चाय नाश्ता किया और दूसरी तरफ सैनिकों की शहादत पर देश के चूल्हे नहीं जले। यह भयावह है कि एक तरफ हमारे जवान पुलवामा में शहीद हुए, तो उसके चार घंटे बाद तक मोदी जी स्वयं के प्रचार, फोटोशूट व चाय-नाश्ते में व्यस्त थे।’’

गौरतलब है कि गुरुवार (14 फरवरी) की शाम जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें 42 जवान शहीद हो गए। इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, हर कोई शहादत को नमन कर रहा है।

Courtesy: jantakareporter

Categories: India

Related Articles