इस बड़े भाजपा नेता ने 95 वर्षीय बुजुर्ग से जबरन अंगूठा लगवाकर हड़पी जमीन, BJP नेता समेत 5 पर केस दर्ज

इस बड़े भाजपा नेता ने 95 वर्षीय बुजुर्ग से जबरन अंगूठा लगवाकर हड़पी जमीन, BJP नेता समेत 5 पर केस दर्ज

ग्रेटर नोएडा. एक 95 वर्षीय बुजुर्ग ने भाजपा नेता आैर बरेली से पूर्व विधानसभा उम्मीदवार रहे तेजा गुर्जर के खिलाफ जमीन हथियाने का आरोप लगाते हुए धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है। कोर्ट के आदेश के बाद भाजपा नेता तेजा गुर्जर के खिलाफ नाॅलेज पार्क थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। बता दें कि मुकदमा दर्ज कराने वाले बुजुर्ग भाजपा नेता तेजा गुर्जर के रिश्तेदार हैं। उनका आरोप है कि डाॅक्टर को दिखाने के बहाने उन्हें ग्रेटर नोएडा अथाॅरिटी ले गए आैर वहां जबरन जमीन के कागजों पर अंगूठा लगवा दिया गया। इतना ही नहीं जब उन्होंने विरोध किया तो उनके साथ मारपीट भी की गर्इ। इस मारपीट में उनका कूल्हा टूट गया। उन्होंने जमीन कब्जाने के आरोप में भाजपा नेता तेजा गुर्जर, भार्इ जयसिंह, परविंदर नागर, सुबोध कुमार आैर शाहबुद्दीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करार्इ है।

नॉलेज पार्क कोतवाली क्षेत्र के तुगलपुर गांव के रहने वाले भाजपा नेता व बरेली जिले से पूर्व विधानसभा प्रत्याशी रहे तेजा गुर्जर के खिलाफ न्यायालय के आदेश पर धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की गई है। तेजा गुर्जर के बुजुर्ग रिश्तेदार ने आरोप लगाया है कि डॉक्टर के यहां दिखाने के बहाने उन्हें ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण लेकर गए। वहां जबरन जमीन के कागजों पर उनका अंगूठा लगवा लिया गया। विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की गई। मारपीट में उसका कूल्हा टूट गया है। जमीन कब्जाने के मामले में पुलिस ने भाजपा नेता तेजा गुर्जर, भाई जय ¨सह व पर¨वदर नागर, सुबोध कुमार, शाबुद्दीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। वे जब वहां से वापस आए तो अंगूठे पर स्याही का निशान देखकर भतीजे करनपाल ने पूछा। इस पर उन्होंने पूरी कहानी अपने भतीजे को बताई। इसके बाद भतीजे ने मामले की शिकायत पुलिस से की, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट नहीं दर्ज की।

इसके बाद पीड़ित पक्ष की आेर से न्यायालय का दरवाजा खटखटाया गया। अब इस मामले में न्यायालय ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करने के आदेश दिए हैं। फिलहाल नॉलेज पार्क पुलिस ने मामले में एफआर्इआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं इस मामले में भाजपा नेता तेजा गुर्जर ने कहा है कि कोर्ट के आदेश पर एफआर्इआर दर्ज की है। हम भी न्यायालय में अपनी आेर से साक्ष्य पेश करेंगे। उनका कहना है कि धोखाधड़ी रिपोर्ट दर्ज कराने वालों के साथ नहीं हमारे साथ हुर्इ है।

Courtesy: patrika.

Categories: Crime

Related Articles